पति को I love you बोल कर महिला ने कर ली आत्महत्या, सुसाइड नोट में ससुराल वालों पर लगाए गंभीर आरोप

I Love You दीपकजी' ये वो शब्द हैं जो एक विवाहिता ने अपने सुसाइड नोट में अपने पति के लिए लिखे हैं। महिला ने इस सुसाइड नोट में अपने पति को...

नई दिल्ली। I Love You दीपकजी’ ये वो शब्द हैं जो एक विवाहिता ने अपने सुसाइड नोट में अपने पति के लिए लिखे हैं। महिला ने इस सुसाइड नोट में अपने पति को छोड़कर बाकी सुसराल वालों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। मामला राजस्थान के भरतपुर जिले का है।

suicide

मिली जानकारी एक मुताबिक 21 साल की इस महिला की मौत से उसके परिजन स्तब्ध हैं। महिला का नाम आरती है। आने वाले 30 अप्रैल को आरती मैरिज एनवर्सिरी है लेकिन उससे पहले ही आरती ने आत्महत्या कर ली।
बताया जा रहा है कि होली के बाद से ही आरती अपने मायके यानी सेवर थाना क्षेत्र के गुंडवा गांव में रह रही थी। उसका अपने ससुराल वालों से विवाद चल रहा था। इस वजह से वह मानसिक तनाव में थी और सोमवार की दोपहर को ख़ुदकुशी कर ली।

मौत से पहले आरती ने जो सुसाइड नोट लिखा है उसमें उन्होंने ससुरालीजनों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। आरती ने सुसाइड नोट में लिखा है – मेरे मरने का जिम्मेदार घर में से कोई नहीं है। मुझे मरने पर मजबूर मेरी ननद ने किया है। उसने ही मेरी और मेरे पति की लड़ाई करा दी और मुझे ससुराल से भगा दिया। उसने मुझे और मेरे घरवालों को गाली भी दी । मेरी ननद ने मुझसे मेरी सारी चीजें छीन ली और मुझे फोन पर धमकी दी कि अब तुझे ससुराल नहीं आने दूंगी।

आरती ने अपने सुसाइड नोट में लिखा ‘इसमें मेरे पति की कोई गलती नहीं है। उसने तो बहन के समझाने पर मुझसे झगड़ा किया। मेरी मौत के जिम्मेदार मेरी ननद और जेठ हैं। सोना और ओमप्रकाश। आरती ने सुसाइड नोट में ये भी लिखा- ‘अगर मुझसे कोई गलती हुई हो तो मुझे माफ कर देना। मैं मेरे पति से बहुत प्यार करती हूं और मरने के बाद भी करती रहूंगी..I Love You दीपकजी।’

वहीं अब इस पूरे मामले में आरती के पिता का कहना है कि उनकी बेटी तनाव की वजह से अपना ससुराल छोड़ यहां आ गई थी। आरती की ननद और जेठ उसे प्रताड़ित करते थे। उन लोगों ने उनकी बेटी आरती के साथ मारपीट भी की है।

Related Articles

Back to top button