Weather Update: बदरीनाथ हाईवे समेत चमोली की 21 सड़कें बंद, इन जिलों में होगी भारी बारिश

मौसम विभाग ने आज गुरुवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून, हरिद्वार, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल और अल्मोड़ा जिलों में आंधी तूफान...

देहरादून। मौसम विभाग ने आज गुरुवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून, हरिद्वार, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल और अल्मोड़ा जिलों में आंधी तूफान के साथ तेज बारिश की आशंका जाहिर की है। वहीं दूसरी तरफ भारी बारिश की वजह से चमोली जिले की 21 सड़कें बंद हो गई है जिससे आवाजाही ठप हो गई है।

badrinath highway landslide

बता दें कि चमोली जिले में देर रात से शुरू हुई भारी बारिश बृहस्पतिवार को तड़के थमी। बारिश की वजह से जिले की 21 ग्रामीण सड़कें बंद हो गई हैं। इधर बदरीनाथ हाईवे पर टैय्या पुल और लामबगड़ के पास खचड़ा नाले में देर रात से ही रास्ता बंद पड़ा है। हालांकि बीआरओ (सीमा सड़क संगठन) की जेसीबी हाईवे खोलने में जुटी हुई हैं।

उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही सभी सड़कों को खोल दिया जायेगा। बिरही-निजमुला सड़क के अवरुद्ध होने से निजमुला घाटी के गांवों में रह लोगों को काफी मुश्किल आ रही है। इस गांव में वाहनों का आवागमन पूरी तरह से बंद है। हालांकि मौसम अब सामान्य है। इधर पोखरी, थराली, देवाल, कर्णप्रयाग, गौचर क्षेत्र में भी सड़कों पर मलबा आने से आवागमन बंद हो गया है। ऐसे में ग्रामीणों को लंबी दूरी तय करनी पड़ी रही है।

उधर, ऋषिकेश बद्रीनाथ राजमार्ग भी सिरोहबगड़ में सुबह से बंद है। अन्य वैकल्पिक मोटर मार्गों से यातायात का संचालन किया जा रहा है। बीते एक सप्ताह से सिरोहबगड़ में आए दिन राजमार्ग बंद होने की खबर आ रही है। प्रभावित क्षेत्र में हाईवे लगभग दो किमी तक बदहाल स्थिति में है। हाईवे से जुड़े अन्य संपर्क मोटर मार्गों का भी हाल बेहाल है।

मसूरी शहर में देर रात हुई बारिश से मसूरी -देहरादून मार्ग पर जगह-जगह मलबा आ गया जिससे आवागमन प्रभावित हो रहा है। गलोगी के पाया में सड़क पर गिरे भारी बोल्डरों और मलबे को लोनिवि ने जेसीबी मशीन लगाकर हटाया और आवागमन को सुचारु किया।

Related Articles

Back to top button