uttarakhand: केदारनाथ को प्लास्टिक से मुक्त करने के लिए श्रद्धालुओं को दी जाएंगी तांबे की बोतलें

uttarakhand: केदारनाथ को प्लास्टिक से मुक्त करने के लिए श्रद्धालुओं को दी जाएंगी तांबे की बोतलें

Spread the love

देहरादून. केदारपुरी को प्लास्टिक फ्री जोन बनाने के लिए प्लास्टिक को पूरी तरह प्रतिबंधित किया जाएगा। श्रद्धालुओं के लिए को दी जाएंगी तांबे की बोतलें। प्लास्टिक की बोतलों से केदारनाथ धाम को मुक्त करने के लिए तांबे की बोतलों को महत्व देने की योजना बनाई गयी है। तांबे की बोतलों के निर्माण के लिए ताम्र शिल्पियों से बातचीत चल रही है। जिससे कि लोगो को रोजगार मिल सके और श्रद्धालुओं को भी फायदा मिलेगा।

केदारनाथ को प्लास्टिक फ्री जोन बनाने के लिए सरकार कमर कास ली है। केदारपुरी को प्लास्टिक की प्लास्टिक फ्री जोन बनाने के लिए सरकार ने ठोस कदम उठा लिया है, प्लास्टिक से निजात पाने के लिए श्रद्धालुओं को तांबे की बोतलें उपलब्ध कराई जाएंगी। बता दे तांबे की बोतलों का निर्माण अल्मोड़ा और बागेश्वर के ताम्र शिल्पियों से कराया जाएगा।

केदारनाथ में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को लेकर प्रधानमंत्री ने सिंगल यूज प्लास्टिक के निस्तारण की मुहिम भी शुरू की है। यह केदारपुरी में भी आकार लेगी। केदारपुरी को प्लास्टिक रहित बनाने को लेकर श्रद्धालुओं को जागरूक करने के साथ ही प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन को कदम उठाए जाएंगे। सचिव पर्यटन के अनुसार यह कार्य योजना तैयार की जा रही है। उन्होंने बताया कि श्रद्धालु आमतौर केदारनाथ से नदियों के संगम का पवित्र जल ले जाने के लिए प्लास्टिक की बोतलों का उपयोग करते हैं। इसलिए प्लास्टिक की बोतलों से धाम को मुक्त करने के लिए तांबे की बोतलों की सुविधा देने की योजना बनाई जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button