Uttarakhand: शहीद पुलिस जवानों के सम्मान में बनेगा शौर्य स्मारक, इस जगह पर जमीन तलाश रही सरकार

देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में जल्द ही शौर्य स्मारक बनेगा। शौर्य स्मारक में देश के लिए अपने जान की बाजी लगा देने वाले शहीद पुलिस जवानों की वीरगाथा लिखी जाएगा। इसके लिए जमाीन भी तलाशने का काम शुरू हो गया है। गृह मंत्रालय की ओर से पुलिस महानिदेशक को शौर्य स्मारक की स्थापना करने के दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

Spread the love

देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में जल्द ही शौर्य स्मारक बनेगा। शौर्य स्मारक में देश के लिए अपने जान की बाजी लगा देने वाले शहीद पुलिस जवानों की वीरगाथा लिखी जाएगा। इसके लिए जमाीन भी तलाशने का काम शुरू हो गया है। गृह मंत्रालय की ओर से पुलिस महानिदेशक को शौर्य स्मारक की स्थापना करने के दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

उत्तराखंड (Uttarakhand) में पुलिस जवानों के शहादत की बात करें तो राज्य स्थापना से अब तक 191 पुलिसकर्मी शहीद हो चुके हैं। इन शहीद पुलिस जवानों की याद में पुलिस शौर्य स्मारक तैयार किया जाएगा। पहाड़ी राज्य होने के चलते प्रदेश में प्राकृतिक आपदाएं आती रहती हैं। 2013 में केदारनाथ त्रासदी, 2021 में रैणी आपदा, बदमाशों की धरपकड़, मुठभेड़, कोरोना संक्रमण के दौरान फ्रंट लाइन में ड्यूटी करते हुए 21 सालों में 191 पुलिसकर्मी शहीद हो चुके हैं। इनमें 138 कांस्टेबल, 36 हेड कांस्टेबल, 14 सब इंस्पेक्टर, दो इंस्पेक्टर व एक डिप्टी एसपी शामिल हैं।

यहां तलाशी जा रही जमीन

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि गृह मंत्रालय के आदेश पर पहले पुलिस लाइन में पुलिस शौर्य स्मारक बनाने की योजना थी, लेकिन किन्हीं कारणों के चलते शौर्य स्थल पुलिस लाइन से बाहर बनाने की बात कही गई। ऐसे में अब सहस्रधारा रोड पर ननूरखेड़ा क्षेत्र में पुलिस शौर्य स्मारक के लिए जमीन तलाशी जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button