Uttarakhand: अब उत्तराखंड के घने जंगलों में भी कर सकेंगे बाइकिंग, बस करना होगा ये काम

उत्तराखंड की धामी सरकार अब वन विभाग की तरफ से जंगलों में ऐसे ट्रैक बनाने जा रही है जिस पर पावर बाइक्स फर्राटा भर सकेंगी...

उत्तराखंड। उत्तराखंड की धामी सरकार अब वन विभाग की तरफ से जंगलों में ऐसे ट्रैक बनाने जा रही है जिस पर पावर बाइक्स फर्राटा भर सकेंगी। कैम्पा की मीटिंग में मुख्य सचिव एसएस संधू ने मातहतों को मसले पर दिशा निर्देश दिए। अभी तक हम उत्तराखंड में पावर बाइक्स को सड़कों पर दौड़ते हुए देखते रहे हैं लेकिन अब बाइक प्रेमी जंगल में भी बाइकिंग कर सकेंगे।

Uttarakhand forest road

बताया जा रहा है कि सब ठीक रहा तो जल्द ही जंगलों में भी स्पोर्ट्स और पावर बाइक्स फर्राटा भरने लगेंगी। अब बाइक टूरिज्म विकसित करने के लिए वन विभाग घने जंगलों में बाइकिंग ट्रैक बनाने जा रहा है। ये निर्णय आज यानी मंगलवार को हुई कैम्पा स्टेयरिंग कमेटी की बैठक में लिया गया है।

उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधू की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में तय किया गया कि इसके लिए कैम्पा से बजट आवंटित किया जायेगा। हालांकि बाइकर्स को इन ट्रैक पर जाने के लिए वन विभाग में रजिस्ट्रेशन कराना होगा और इसके लिए फीस भी निर्धारित की जाएगी।

ईको टूरिज्म के सीईओ डॉ. पराग मधुकर धकाते ने बताया कि ये ट्रैक नेशनल पार्क और वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के अलावा बाकी जंगलों में भी विकसित होंगे। फिलहाल पूरे उत्तराखंड में ऐसे ट्रैक चिह्नित किए जाएंगे। इन रूटों पर ऐसे स्थान रखे जाएंगे, जहां आसपास आबादी हो ताकि, टूरिज्म बढ़ने के साथ-साथ यह स्थानीय लोगों की कमाई का जरिया भी बन सके क्योंकि उत्तराखंड ही नहीं, बल्कि देश के अन्य राज्यों से भी बड़ी संख्या में बाइकर्स यहां आते हैं। जंगल में बाइकिंग ट्रैक बन जाने के बाद लोग बाइकर एडवेंचर का लुत्फ उठा सकेंगे।

Related Articles

Back to top button