उत्तराखंड: मांगों को लेकर सचिवालय पहुंची एनएचएम संविदा कर्मियों भारी भीड़

हरियाणा की तर्ज पर वेतनमान सहित अन्य मांगों को लेकर आज उत्तराखंड के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) कर्मियों ने सचिवालय की तरफ कुछ किया।

देहरादून। हरियाणा की तर्ज पर वेतनमान सहित अन्य मांगों को लेकर आज उत्तराखंड के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) कर्मियों ने सचिवालय की तरफ कुछ किया। राज्य के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से जुड़े हजारों संविदा कर्मियों ने हरियाणा की भांति वेतनमान का लाभ देने, एनएचएम में आउट सोर्सिंग के जरिये नियुक्ति प्रक्रिया को खत्म कर राज्य एवं जिला स्वास्थ्य समिति से नियुक्तियां देने की मांग को लेकर सचिवालय कूच किया।

NHM

इस बारे में बात करते हुए संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सुनील भंडारी ने कहा कि सरकार को जगाने के लिए संघ ने यह प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि उनकी मांगों पर लंबे समय बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होने से एनएचएम कर्मियों में खासा आक्रोश है।
बता दें कि सोमवार को प्रदर्शन से पहले एनएचएम संविदा कर्मी भारी संख्या में परेड ग्राउंड में इकट्ठा हुए। यहां से उन्होंने सचिवालय कूच किया।

हालांकि, पुलिस ने उन्हें सचिवालय पहुंचने से पहले ही बैरिकेडिंग लगाकर रोक लिया जिसके बाद संविदाकर्मी धरने पर बैठ गए। एनएचएम संविदा कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष सुनील भंडारी ने बताया कि उन्हें एक महीने का समय दिया गया था लेकिन एक समय सीमा समाप्त होने के बाद भी उनकी मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इससे कर्मचारियों में गुस्सा है और उन्हें आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। सचिवालय कूच में देहरादून समेत सभी जिलों के संगठन कार्यकर्ता मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button