उत्तराखंड स्थापना दिवस: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खोला घोषणाओं का पिटारा, इन्हें भी दिया बड़ा तोहफा

उत्तराखंड राज्य के 21 वें स्थापना दिवस के अवसर पर राजधानी देहरादून के पुलिस लाइन मैदान में रैतिक परेड कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

देहरादून। उत्तराखंड राज्य के 21 वें स्थापना दिवस के अवसर पर राजधानी देहरादून के पुलिस लाइन मैदान में रैतिक परेड कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने राज्य की जनता के लिए घोषणाओं का पिटारा खोल दिया। सीएम ने राज्य आंदोलनकारियों के लिए भी कई बड़ी घोषणाएं की।

Uttarakhand Foundation Day

रैतिक परेड  कार्यक्रम में सीएम धामी ने राज्य आंदोलनकारियों की पेंशन को बढ़ाने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि 3100 पेंशन पाने वाल लाभार्थियों को अब 4500 रूपये पेंशन मि दी जाएगी, जबकि 5000 रूपये पेंशन पाने वाले आंदोलनकारियों को अब 6000 रूपये की पेंशन दी जाएगी। उन्होंने कहा कि आने वाले साल 2025 तक उत्तराखंड के हर गांव को लिंक मार्गो से जोड़ दिया जायेगा।

आज यानी नौ नवंबर को उत्तराखंड स्थापना दिवस के अवसर पर देहरादून स्थित पुलिस लाइन में आयाेजित रैतिक परेड को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि साल 2025 तक उत्तराखंड के प्रमुख शहरों को हेली सेवा से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड देश का ऐसा पहला राज्य है जहां उड़ान योजना के अंतर्गत हेली सर्विस की शुरूआत की गई है।

इस मौके पर सीएम धामी ने एनएचएम कर्मियों को एकमुश्त 10 हजार रुपये देने का भी ऐलान किया। इसके साथ ही उन्होंने महिलाओं और बालिकों को सौगात देते हुए हर जिले में छात्रावास बनाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि देहरादून और हल्द्वानी में एक- एक नशा मुक्ति केंद्र भी बनाए जाएंगे। धामी ने कहा कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर सेनेटरी नेपकिन वेंडिंग मशीन भी लगाई जाएगी।

Related Articles

Back to top button