Uttarakhand elections: BJP ने दिया युवा सीएम, युवा प्रदेश, युवा कैंडिडेट का नारा, क्या काट जायेगा इन नेताओं का पत्ता!

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर 'युवा सीएम, युवा प्रदेश, युवा कैंडिडेट' के नारे से एक तीर से तीन निशाने साध दिए है।

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर ‘युवा सीएम, युवा प्रदेश, युवा कैंडिडेट’ के नारे से एक तीर से तीन निशाने साध दिए है। पहला, भाजपा इस नारे से उत्तराखंड के 48 प्रतिशत युवा मतदाताओं को रिझाने का प्रयास कर रही है। दूसरा, विपक्षी पार्टी कांग्रेस पर भी ये सीधा अटैक है क्योंकि कांग्रेस इलेक्शन कैम्पेन कमेटी के अध्यक्ष हरीश रावत की उम्र अब 70 साल से अधिक हो गयी है और तीसरा इस नारे के जरिये बीजेपी अपने उन​ नेताओं से भी पल्ला झाड़ने की प्लानिंग कर रही है जिनकी परफॉर्मेंस अच्छी नहीं है।

uttrakhand bjp

मालूम हो कि उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए अब कुछ महीने ही रह गए है। इन दिनों यहां सियासी पारा गरमाया हुआ है। हर पार्टी जनता को रिझाने की जोर आजमाइश में जुट गयी है। राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा में इस चर्चा ने भी जोर पकड़ लिया है कि क्या आगामी चुनाव मौजूदा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा। इसी बीच पार्टी में एक नया एंगल सामने आ गया है।

बीजेपी प्रदेश में ‘युवा प्रदेश, युवा मुख्यमंत्री’ के नारे को बूस्ट अप करते हुए अब ‘युवा कैंडिडेट’ का दांव खेलने जा रही है यानी सिर्फ मुख्यमंत्री ही नहीं बल्कि पूरी की पूरी सरकार पर युवा का टैग लगाने की तैयारी कर रही है। अगर ऐसा हुआ तो पार्टी मौजूदा सिटिंग विधायकों में से दो दर्जन से अधिक नेताओं का पत्ता साफ हो सकता है।

 

Related Articles

Back to top button