Uttarakhand Election 2022: भाजपा-कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के बेटे टिकट पाने को बेकरार

देहरादून. (Uttarakhand Assembly Election 2022) उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में कुछ ही महीने बाकी हैं। जिसे देखते हुए उत्तराखंड में सभी सियासी दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। विधानसभा चुनाव के रण में उतरने के लिए चिर प्रतिद्वंद्वी भाजपा (BJP) और कांग्रेस एक बार फिर आमने-सामने हैं। कुमाऊं में भाजपा व कांग्रेस के नेताओं की दूसरी पीढ़ी विधान सभा जाने को तैयार है। दोनों पार्टियों के दिग्गज नेताओं के बेटे इस विधान सभा चुनाव में अपनी ताकत दिखाने में जुट गए हैं। भाजपा नेताओं के बेटे चुनावी रण में उतरने को तैयार बैठे हैं।

देहरादून. (Uttarakhand Assembly Election 2022) उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में कुछ ही महीने बाकी हैं। जिसे देखते हुए उत्तराखंड में सभी सियासी दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। विधानसभा चुनाव के रण में उतरने के लिए चिर प्रतिद्वंद्वी भाजपा (BJP) और कांग्रेस एक बार फिर आमने-सामने हैं। कुमाऊं में भाजपा व कांग्रेस के नेताओं की दूसरी पीढ़ी विधान सभा जाने को तैयार है। दोनों पार्टियों के दिग्गज नेताओं के बेटे इस विधान सभा चुनाव में अपनी ताकत दिखाने में जुट गए हैं। भाजपा नेताओं के बेटे चुनावी रण में उतरने को तैयार बैठे हैं

आपको बता दे कांग्रेस नेता के बेटे रणजीत सिंह रावत विक्रम रावत भी चुनावी मैदान में उतरने तैयार है। इस बार पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बेटे आनंद रावत भी विधानसभा चुनाव में उतरकर राजनीति में कदम रखेगे। वही पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य के बेटे संजीव आर्य व पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के बेटे सौरभ बहुगुणा विधान सभा में दूसरी पारी खेलने की तैयारी हैं।

Related Articles

Back to top button