उत्तराखंड चुनाव 2022: नेता प्रतिपक्ष और कैबिनेट मंत्री की मुलाकात के बाद गरमाई सियासत, अटकलें तेज

देहरादून. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Assembly Election 2022) में कुछ ही महीने बाकी हैं। जिसे देखते हुए उत्तराखंड में सभी सियासी दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। विधानसभा चुनाव के रण में उतरने के लिए चिर प्रतिद्वंद्वी भाजपा (BJP) और कांग्रेस एक बार फिर आमने-सामने हैं। तो वहीं दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी आम आदमी पार्टी भी पूरी दमखम से मैदान में उतर चुकी है। लेकिन उत्तराखंड में सियासी भूचाल तब आ गया है जब नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के मुलाकात की खबरें सामने आई।

देहरादून. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Assembly Election 2022) में कुछ ही महीने बाकी हैं। जिसे देखते हुए उत्तराखंड में सभी सियासी दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। विधानसभा चुनाव के रण में उतरने के लिए चिर प्रतिद्वंद्वी भाजपा (BJP) और कांग्रेस एक बार फिर आमने-सामने हैं। तो वहीं दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी आम आदमी पार्टी भी पूरी दमखम से मैदान में उतर चुकी है। लेकिन उत्तराखंड में सियासी भूचाल तब आ गया है जब नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के मुलाकात की खबरें सामने आई।

भाजपा (BJP) और कांग्रेस के बीच चल रहे सियासी दाव पेंच के बीच नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के मुलाकात के बाद सियासी गलियारों में कई तरह की चर्चा होने लगी। अचानक कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल से मिलने नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह पहुंचे तो तमाम निहितार्थ निकाले जाने लगे।

जानकारी के मुताबिक, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह मंगलवार सुबह यमुना कालोनी स्थित कैबिनेट मंत्री उनियाल के आवास पर पहुंचे थे। दोनों के मध्य लंबी बातचीत भी हुई। बाद में कैबिनेट मंत्री उनियाल ने कहा कि प्रीतम सिंह उनके मित्र हैं और उनसे उनके व्यक्तिगत संबंध भी हैं। वह अपने विधानसभा क्षेत्र से संबंधित कुछ कार्यों के सिलसिले में उनसे मिलने आए थे। वह अक्सर उनसे मिलते रहते हैं। उन्होंने कहा कि मंत्री होने के नाते कोई भी उनसे मिलने आ सकता है, इसमें बुराई क्या है।

Related Articles

Back to top button