Uttarakhand: चारों धाम में बरसे बादल, बारिश और ओले भी पड़े, गर्मी से मिली राहत

उत्तराखंड में गत दिवस यानी तीन मई से चार धाम यात्रा शुरू हो गई है। तीन मई को तो गंगोत्री और यमुनोत्री में मौसम साफ था, लेकिन...

देहरादून। उत्तराखंड में गत दिवस यानी तीन मई से चार धाम यात्रा शुरू हो गई है। तीन मई को तो गंगोत्री और यमुनोत्री में मौसम साफ था, लेकिन आज यानी चार मई को दोपहर के बाद यहां का मौसम अचानक से बदल गया गंगोत्री जमुनोत्री ही नहीं बल्कि केदारनाथ धाम और बद्रीनाथ धाम बारिश से तरबतर हो गए।

UTTRAKHAND

उत्तरकाशी ज़िले के साथ ही बागेश्वर ज़िले में ओले भी गिरे हैं। वहीं पिथौरागढ़ में भी झमाझम बारिश हुई है। हालांकि इस बारिश ने भीषण गर्मी से परेशान लोगों को काफी राहत दी है। मौसम विभाग का कहना है कि गुरुवार यानी 5 मई की रात तक पहाड़ों में बारिश होने का अनुमान है।

बता दें कि बीते दो दिनों से मौसम का मिज़ाज बदला दिख रहा है। 3 मई की सुबह भी आसमान में बादल छाए रहे लेकिन दिन में एकाएक तेज धूप निकल आई। इसके बाद दोपहर में अचानक से ओलों के साथ बारिश शुरू हो गई। बारिश होने से जंगलों में लगी आग पर भी काबू पा लिया गया। वन विभाग के लिए ये बारिश किसी सौगात से कम नहीं रही। इस दौरान ज़िले में 17.50 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई.

ठंडक बढ़ी

तीन मई की सुबह भी मौसम साफ रहा लेकिन दोपहर बाद केदारनाथ के साथ ही गंगोत्री, यमुनोत्री में जमकर बारिश हुई। इसके साथ ही चमोली ज़िले में स्थित बद्रीनाथ धाम में भी हल्की बौछार पड़ी। वहीं गंगोत्री और यमुनोत्री धामों में बारिश की वजह से कुछ हिस्सों को बरसाती से ढांकना पड़ा। बारिश के इन दोनों धामों समेत उत्तरकाशी में ठंडक बढ़ गई है। हालंकि बुधवार सुबह हल्की धूप खिली लेकिन बादल भी छाए रहे। वहीं बागेश्वर में भी आज सुबह धूप खिल गई।

Related Articles

Back to top button