Uttarakhand : चारधाम यात्रा पर जा रहे हैं तो जरूर रखें इन बातों का ध्यान, वरना पड़ जायेंगे परेशानी में

नीताल हाईकोर्ट द्वारा चारधाम यात्रा से प्रतिबंध हटाने के बाद आज से यात्रा शुरू हो चुकी है। यात्रा की शुरुआत होते ही उत्तराखंड के इन चारों धामों में श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला भी शुरू हो गया है।

Spread the love

उत्तराखंड। नैनीताल हाईकोर्ट द्वारा चारधाम यात्रा से प्रतिबंध हटाने के बाद आज से यात्रा शुरू हो चुकी है। यात्रा की शुरुआत होते ही उत्तराखंड के इन चारों धामों में श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। यात्रा पर प्रतिबंध हटने से स्थानीय लोगों के साथ-साथ यात्रियों में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। हालाँकि कोर्ट में यात्रा के दौरान यात्रियों को अपने साथ कुछ दस्तावेज अवश्य रखने होंगे अन्यथा उन्हें यात्रा कि अनुमति नहीं दी जाएगी।

CHARDHAM YATRA

कोरोना महामारी की वजह से बैन को गयी चारधाम यात्रा आखिरकार लंबी जद्दोजहद के बाद आज हेमकुंड साहिब की यात्रा आरंभ हो गई है। हालांकि, कोर्ट के आदेश के बाद यात्रा को सीमित तौर पर ही शुरू किया गया है। इस यात्रा को लेकर सरकार की तरफ से पूरी तैयारी कर ली गई है। चारधाम यात्रा पर आने वाले सभी यात्री को देवस्थानम बोर्ड की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही स्मार्ट सिटी पोर्टल पर भी यात्रियों को पंजीकरण कराना होगा।

चारधाम यात्रा के लिए उत्तराखंड सरकार द्वारा अलग से एसओपी भी जारी की गई है। इसके अंतर्गत यात्रियों को चारों धामों के दर्शन करने की इजाजत होगी। इसके साथ ही सभी यात्रियों को अपने पूरे दस्तावेज अपने साथ रखने होंगे. चारधाम यात्रा शुरू होने से श्रद्धालुओं में तो ख़ुशी हैं वहीं व्यापारी वर्ग से लेकर तीर्थ पुरोहितों और स्थानीय लोगों में भी काफी उत्साह है। यात्रा शुरू होने पर तीर्थ पुरोहितों ने राज्य सरकार का धन्यवाद जताया है। बता दें कि यात्रा शुरू होने से चारों धामों में लाखों लोग लाभान्वित होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button