Today Lunar Eclipse: साल का आखिरी चंद्र ग्रहण जारी, ग्रहण के चलते भूलकर भी ना करें ये काम

गर्भवती महिलाओं को भी विशेष सावधानी वर्तनी चाहिए। खासकर ग्रहण (Today Lunar Eclipse) के दौरान अपने पास किसी भी प्रकार का धारदार हथियार, चाकू, असलाह आदि न रखें।

Spread the love

साल का अंतिम चंद्र ग्रहण (Today Lunar Eclipse) जारी हो गया है आपको बता दे यह 12.48 बजे शुरू हो गया है और 4.47 बजे समाप्त हो जायेगा। यह चंद्र ग्रहण पूरा नहीं दिखाई नहीं देगा। सलिए सूतक काल भी नहीं लगेगा। यह चंद्र ग्रहण सदी का सबसे लंबा ग्रहण करीब 6 घंटे 2 मिनट तक रहेगा। ये भारत के बहुत कम हिस्सों में ही दिखाई देगा।

Today Lunar Eclipse

यह आंशिक चंद्र ग्रहण ग्रहण (Today Lunar Eclipse) 80 सालों बाद सबसे लंबा चंद्र ग्रहण बताया जा रहा है। 15वीं सदी के बाद सबसे लंबा चंद्र ग्रहण है। इतना लंबा चंद्र ग्रहण होने के पीछे खगोलविदों का मानना है कि धरती से चंद्रमा की दूरी ज्‍यादा होने के कारण चंद्र ग्रहण की अवधि ज्‍यादा रहेगी। आंशिक चंद्र ग्रहण हिंदू कैलेडंर की तिथि के अनुसार, कार्तिक पूर्णिमा के शुक्ल पक्ष में शुरू हुआ ये ग्रहण 4 बजकर 17 मिनट तक रहेगा। यह चंद्र ग्रहण भारत में मणिपुर के इंफाल और आसपास के क्षेत्रों में कुछ समय के लिए दिखेगा। इसके साथ ही असम, अरुणाचल प्रदेश के क्षेत्रों में भी ग्रहण नजर आएगा।

ग्रहण (Today Lunar Eclipse) के दौरान गर्भवती महिलाओं को वर्तनी चाहिए विशेष सावधानी

गर्भवती महिलाओं को भी विशेष सावधानी वर्तनी चाहिए। खासकर ग्रहण (Today Lunar Eclipse) के दौरान अपने पास किसी भी प्रकार का धारदार हथियार, चाकू, असलाह आदि न रखें। ग्रहण के दौरान ज्यादा से ज्यादा समय मंत्र जाप करें। ग्रहण के बाद स्नान दान करें। इससे ग्रहण का दुष्प्रभाव कम होगा। जानकारों के मुताबिक ग्रहण काल में गर्भ में पल रहे बच्चों को नकारात्मक ऊर्जा से बचाने के लिस विभिन्न उपाय अपनाने चाहिए। गर्भवती स्त्रियों को घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी जाती है। बाहर निकलना जरूरी हो तो गर्भ पर चंदन और तुलसी के पत्तों का लेप कर लें। इससे ग्रहण का प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर नहीं होगा।

Uttarakhand Election 2022: चुनाव से ठीक पहले कृषि कानून वापसी का ऐलान, इन सीटों पर किसान कर सकते हैं बड़ा उलटफेर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button