BJP में जानें की खबरों से नाराज हुए शिवपाल यादव, कहा- मैं अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले सपा गठबंधन के साथ हूं

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव में एक महीने से कम का भी वक्त बचा है। ऐसे में सभी सियासी दलों ने प्रत्याशियों की लिस्ट जारी करने की कवायद तेज की है। तो वहीं नेताओं के दल बदलने का सिलसिला भी राजनीतिक दलों में जारी है। इसी कड़ी में आज सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव भाजपा में शामिल हो गई हैं। जिसके बाद अब भाजपा की नजर प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव पर है। लेकिन शिवपाल यादव ने बीजेपी में जानें की खबरों का खंड़न किया है। उन्होंने कहा है कि मैं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले सपा गठबंधन के साथ हूं।

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव में एक महीने से कम का भी वक्त बचा है। ऐसे में सभी सियासी दलों ने प्रत्याशियों की लिस्ट जारी करने की कवायद तेज की है। तो वहीं नेताओं के दल बदलने का सिलसिला भी राजनीतिक दलों में जारी है। इसी कड़ी में आज सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव भाजपा में शामिल हो गई हैं। जिसके बाद अब भाजपा की नजर प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव पर है। लेकिन शिवपाल यादव ने बीजेपी में जानें की खबरों का खंड़न किया है। उन्होंने कहा है कि मैं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले सपा गठबंधन के साथ हूं।

प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने बुधवार को उन खबरों का खंडन किया है। जिसमें यूपी बीजेपी की ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने शिवपाल यादव के भाजपा में आने के संकेत के बात कही थी। शिवपाल यादव ने बीजेपी में शामिल होने की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि लक्ष्मीकांत बाजपेई के दावे में सच्चाई नहीं है। ये दावा पूर्णतया निराधार, तथ्यहीन है, मैं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व वाले सपा गठबंधन के साथ हूं। इस बार उत्तर प्रदेश में सपा की सरकार बनेगी।

बता दें, मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव के भाजपा में शामिल होने के बाद यूपी बीजेपी की ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने शिवपाल यादव को समझदार नेता बताया था और इशारा किया था कि वह भी बीजेपी में आ सकते हैं। इस चुनाव में चाचा शिवपाल सिंह यादव और भतीजे अखिलेश यादव के रिश्तों में सुधार हुआ है। अब यूपी चुनाव 2022 से पहले स्थिति बदली है। शिवपाल ने जो प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनाई थी, उसका सपा के साथ चुनावी गठबंधन भी हुआ है।

Related Articles

Back to top button