50 साल से पाक जेल में बंद मेजर कंवलजीत सिंह को लेकर SC हुआ सख्त, सरकार से मांगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने आज यानी बुधवार को केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर साल 1971 के युद्ध के बाद से पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय सेना के...

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज यानी बुधवार को केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर साल 1971 के युद्ध के बाद से पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय सेना के अधिकारियों की वापसी की मांग करने संबंधी एक याचिका पर जवाब मांगा है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट 50 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद मेजर कंवलजीत सिंह की पत्नी जसबीर कौर की याचिका पर सुनवाई कर रहा था। मेजर कंवलजीत सिंह 1971 के युद्ध के बाद से अवैध रूप से पाकिस्तान की जेल में बंद हैं।

Supreme Court

मेजर कंवलजीत सिंह की पत्नी जसबीर कौर द्वारा दायर याचिका पर आज न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति सूर्यकांत की पीठ ने सुनवाई की। सुनवाई के दौरान ही पीठ ने केंद्र सरकार से 1971 युद्ध के बाद से पाकिस्तान की जेल में कैद मेजर कंवलजीत सिंह की अवैध हिरासत पर जवाब मांगा है।

याचिका में कहा गया है कि इंटरनेशनल रेड क्रॉस की युद्ध बंदी की सूची है उसे पेश किया जाना चाहिए। लिस्ट के अनुसार पाकिस्तान को युद्धबंदी के तौर पर हिरासत में लिए गए मेजर कंवलजीत सिंह को भारत वापस सौंप देना चाहिए था लेकिन अभी तक उन्हें अवैध तरीके से कैद करके रखा गया है।

अब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। याचिका में कारगिल युद्ध के दौरान पाकिस्तान की हिरासत में लिए गए कैप्टन सौरव कालिया समेत पांच जवान के साथ हुए टॉर्चर और हत्या मामले की जांच की भी मांग उठाई गई है।

Related Articles

Back to top button