सचिन पायलट ने BJP पर साधा निशाना, भाजपा सरकार ने 5 साल में की यूपी की दुर्दशा

वाराणसी. यूपी विधानसभा चुनाव में एक महीने से कम का भी वक्त बचा है। ऐसे में सभी सियासी दलों ने अपनी आखिरी रणनीति पर काम कर रही हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट हापुर ने आज वाराणसी में मीडिया से बातचीत में बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इस बार कांग्रेस पूरे दमखम के साथ मैदान में उतरी है और उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज कराने जा रही है।

वाराणसी. यूपी विधानसभा चुनाव में एक महीने से कम का भी वक्त बचा है। ऐसे में सभी सियासी दलों ने अपनी आखिरी रणनीति पर काम कर रही हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट हापुर ने आज वाराणसी में मीडिया से बातचीत में बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इस बार कांग्रेस पूरे दमखम के साथ मैदान में उतरी है और उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज कराने जा रही है।

इस दौरान मीडिया से बातचीत में राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने तौकीर रजा के सवाल से बचते दिखाई दिए तो वहीं उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी पर विश्वास करने वाला समाज का हर तबका परेशान है। उन्होंने कहा कि बीजेपी झूठे वादे कर देश और प्रदेश के सत्ता में आई है। बीजेपी ने मंगाई है भ्रष्टाचार खत्म करने की बात कही थी लेकिन पिछले 5 साल में उत्तर प्रदेश की दुर्दशा हो गई है यहां पर लोग महंगाई बेरोजगारी भ्रष्टाचार से त्रस्त हो चुके हैं।

सचिन पायलट ने कहा बीजेपी सरकार ने किसी की पीड़ा नहीं सुनी है और ना ही किसी वर्ग को राहत देने का काम किया है। इतना ही नहीं सरकार ने किसानों के मुंह से निवाला तक छीनने का काम किया है और किसानों के लिए दिल बिछाए और उन्हें जेलों में भेजने का काम भी किया है। बीजेपी सरकार द्वारा कृषि कानून को वापस ले जाने के मामले पर सचिन पायलट ने कहा कि बीजेपी काली कानून वापस लेने का कारण अब तक नहीं बता पा रही है। यूपी में खाद से लेकर यूरिया तक सब कुछ महंगा हो गया है।

उन्होंने कहा कि नोटबन्दी के बाद काला धन और फैला है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सार्वजनिक संपत्ति को बेचने का काम किया है और कोरोना काल मे झूठे आंकड़े जारी करने का काम किया है। प्रियंका गांधी ने महिलाओं के लिए काम किया है और इस बार हम लोग इसलिए लड़की हूं लड़ सकती हूं नारे के साथ मैदान में हैं। सपा और बसपा पर तंज कसते हुए कहा कि विपक्ष के नाते इन्होंने कभी भी सक्रिय भूमिका नहीं निभाई है। वहीं तौकीर खान पर कहा कि बीजेपी का विरोध करने वाले सभी लोगों को साथ लेने की जरूरत है।इसमें धर्म और मजहब नहीं देखना चाहिए। चुनाव का समय है कुछ लोग आएंगे और कुछ लोग जाएंगे। बीजेपी के मंत्री और विधायक देख लें वह पार्टी छोड़ कर भाग रहे हैं।

Related Articles

Back to top button