Russia-Ukraine War: रूस ने लिया बड़ा फैसला, इंटरनेट पर कसा शिकंजा, मीडिया वेबसाइटों पर लगाया आंशिक प्रतिबंध

वर्ल्ड डेस्क. रूस और युक्रेन के बीच शुरू हुआ युद्ध रूकने का नाम नहीं ले रहा है। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू हुए आज नौ दिन पूरे हो गये हैं। रूस की ओर जारी गोलाबारी और तबाही के बाद भी यूक्रेन झुकने को तैयार नहीं है। इसी बीच रूस ने इंटरनेट पर शिकंजा कस दिया है। रूस ने बीबीसी सहित कुछ मीडिया वेबसाइटों और फेसबुक पर आंशिक प्रतिबंध लगा दिया है।

वर्ल्ड डेस्क. रूस और युक्रेन के बीच शुरू हुआ युद्ध रूकने का नाम नहीं ले रहा है। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू हुए आज नौ दिन पूरे हो गये हैं। रूस की ओर जारी गोलाबारी और तबाही के बाद भी यूक्रेन झुकने को तैयार नहीं है। इसी बीच रूस ने इंटरनेट पर शिकंजा कस दिया है। रूस ने बीबीसी सहित कुछ मीडिया वेबसाइटों और फेसबुक पर आंशिक प्रतिबंध लगा दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूस ने इंटरनेट पर शिकंजा कस दिया है। रूसी भाषा के यूएस-वित्त पोषित रेडियो चैनल, फेसबुक और कुछ वेबसाइटों तक पहुंच को सीमित कर दिया गया है।

रूसी सैन्य बलों ने यूक्रेन के दक्षिणपूर्व में यूरोप के सबसे बड़े जापोरिज्जिया न्‍यूक्लियर पावर प्‍लांट को भी जब्त कर लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूस की सेना ने सुबह हमला करने के बाद इसको अपने कब्जे में ले लिया है। बता दें कि आज सुबह ही रूस ने इस प्लांट पर हमला किया था जिसके बाद इसमें भयंकर आग लग गई थी जिसको बाद में बुझा लिया गया था।

बोरिस जानसन ने की जेलेंस्की से बात

यूरोप के सबसे बड़े न्यूक्लियर प्लांट में आग लगने बाद से सभी यूरोपीय देशों में चिंता बढ़ गई है। इसको लेकर आज ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से बातचीत भी की है।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने न्यूक्लियर प्लांट की घटना पर चिंता जाहिर करते हुए जेलेंस्की से कहा कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की लापरवाही अब सीधे तौर पर पूरे यूरोप की सुरक्षा को लिए नुकसानदायक हो गई है। उन्होंने आगे कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आपात बैठक की मांग करेंगे और इस मुद्दे को रूस और करीबी सहयोगियों के साथ उठाएंगे।

Related Articles

Back to top button