आफत की बरसात: बारिश ने बढ़ाई लोगों की मुश्किलें, टूटे पेड़, बाधित हुई बिजली और पानी की सप्लाई

देहरादून, टिहरी, हरिद्वार, अल्मोड़ा आदि जिलों में गत दिवस यानी मंगलवार दोपहर को अचानक मौसम का मिजाज बदल गया और झमाझम बारिश हुई...

देहरादून। देहरादून, टिहरी, हरिद्वार, अल्मोड़ा आदि जिलों में गत दिवस यानी मंगलवार दोपहर को अचानक मौसम का मिजाज बदल गया और झमाझम बारिश हुई। इस बारिश से जहां एक तरफ तपती गर्मी से राहत तो मिली तो वहीं आमजन की मुश्किलें भी बढ़ गईं। जलभराव से लेकर बिजली कटौती और फिर पानी सप्लाई तक बाधित हुई जिससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

heavy rain

टिहरी की कोटी कालोनी झील में दोपहर बाद आये तूफ़ान की वजह से कई नावें भी पलटकर क्षतिग्रस्त हो गई हैं जिससे नाव संचालकों को खासा नुकसान उठाना पड़ा। बोट संचालकों ने प्रशासन से तूफ़ान से हुए नुकसान का आंकलन क्षतिपूर्ति देने की मांग की है।

बता दें कि लाकडाउन के बाद नाव संचालकों का काम टिहरी झील में बमुश्किल ढर्रे पर लौट रहा था कि मंगलवार दोहपर बाद आये तूफ़ान से बोटें बुरी तरह से उलट-पलट गई और क्षतिग्रस्त हो गई। बोट यूनियन के कुलदीप पंवार ने बताया कि झील में खड़ी सौ से अधिक नावों में से आधी से अधिक बर्बाद हो गई हैं।

इधर मंगलवार शाम को भीषण गर्मी के बीच आये आंधी तूफान और भारी बारिश ने लोगों को राहत दे दी। हरिद्वार में गर्मी और लू की वजह से लोगों का जीना मुहाल हो रहा था। बारिश होते ही मौसम खुशगवार हो गया है। हालांकि बारिश के चलते कई स्थानों पर जलभराव भी हो गया जिससे लोगों आने जाने में परेशानी हुई। उधर, आंधी तूफान से भेल मार्ग, तहसील परिसर, कनखल और लाटोवाली समेत कई स्थानों पर पेड़ गिर गए।

Related Articles

Back to top button