Yogi Sarkar की राह पर चले पुष्कर धामी, अब उत्तराखंड में भी कराये जायेंगे मदरसों के सर्वे

उत्तर प्रदेश की तर्ज पर अब उत्तराखंड में भी मदरसों की गतिविधियों का सर्वे किया जाएगा। इस मामले में बड़ा बयान जारी करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह...

देहरादून। उत्तर प्रदेश की तर्ज पर अब उत्तराखंड में भी मदरसों की गतिविधियों का सर्वे किया जाएगा। इस मामले में बड़ा बयान जारी करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रदेश में मौजूद सभी मदरसों पर कड़ी नजर रखते हुए सर्वे की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि मदरसों को लेकर काफी समय से शिकायतें आ रही हैं। ऐसे में इनकी जांच करना आवश्यक हो गया है। ये बातें सीएम धामी ने मंगलवार को सचिवालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में मदरसों के कामकाज और गतिविधियों को लेकर लगातार शिकायतें मिल रही हैं। ऐसे में अब सरकार द्वारा इन शिकायतों को गंभीरता से लिया जा रहा है और सभी मदरसों की जांच करना का फैसला लिया गया है। अब उत्तर प्रदेश की तर्ज पर सभी मदरसों का सर्वे किया जाएगा। उत्तराखंड में भी मदरसों का सर्वे जरूरी हो गया है। इसके लिए जांच प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी।

गौरतलब है कि मदरसों पर मुख्यमंत्री के बयान से ठीक एक दिन पहले सोमवार को भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता एवं उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के नवनियुक्त अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा है कि कलियर इलाके के कुछ होटलों और ढाबों में ड्रग्स, सेक्स रैकेट और मानव तस्करी का धंधा जोरों पर चल रहा है। लोगों के सहयोग से इनका सफाया किया जाएगा। शम्स ने कहा, सरकार और पुलिस के संज्ञान में ये मामले हैं। पुलिस लगातार वहां पर काम कर रही है और इस मामले में कई गिरफ्तारियां भी की जा चुकी है।

उन्होंने कहा कि उनके पास ऐसी कई शिकायतें भी आई हैं। इस बता की जानकारी उन्हें कलियर के रहने वाले भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष ने भी दी है। शादाब का दावा है कि अवैध कामों से क्षेत्र के लोग परेशान हो चुके हैं। कई लोग तो इन अवैध गतिविधियों की वजह से घर छोड़ने तक छोड़ने को मजबूर हैं।

Related Articles

Back to top button