प्रयागराज: दलित परिवार के चार लोगों की हत्या, बच्ची का पहले किया गैंगरेप और फिर हत्या

प्रयागराज. प्रयागराज में एक दलित परिवार के साथ जो भयानक वारदात हुई है वो बेहद डरावनी है। फाफामऊ थाना क्षेत्र में बीते गुरुवार को हुई सामूहिक हत्या के बाद प्रदेश में हड़कंप मचा है। इस दिलदहला देने वाले नरसंहार की घटना से इलाके में दहशत का माहौल है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।

प्रयागराज. प्रयागराज में एक दलित परिवार के साथ जो भयानक वारदात हुई है वो बेहद डरावनी है। फाफामऊ थाना क्षेत्र में बीते गुरुवार को हुई सामूहिक हत्या के बाद प्रदेश में हड़कंप मचा है। इस दिलदहला देने वाले नरसंहार की घटना से इलाके में दहशत का माहौल है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि परिवार के चार लोगों की हत्या से पहले दरिंदगी भी की गई थी। मां और नाबालिक बिटिया दोनों की रेप के बाद गला दबाकर हत्या की गई थी। वहीं उसके भाई को नाक और मुंह दबाकर मारा गया था। इसके अलावा चारों के शरीर पर संभल और कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या की गई थी।

बता दें, फाफामऊ के गोहरी गांव में एक दलित परिवार के दंपती, उसकी नाबालिग बेटी और बेटे की बेरहमी से गुरुवार को हत्या हुई थी। कमरे के अंदर मां बेटी के कपड़े अस्त-व्यस्त मिले थे और उनकी स्थिति देखकर ही पीड़ित परिवार ने हत्या और गैंगरेप का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि चारों के सिर पर गंभीर जख्म के निशान मिले थे।

वहीं प्रयागराज नरसंहार की घटना पर सियासत तेज हो गई है। शुक्रवार को जहां कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव व यूपी प्रियंका गांधी वाड्रा ने पीड़ित परिजनों से मुलाकात की। प्रियंका ने उनका दर्द बांटने के साथ ही यूपी की योगी सरकार पर जमकर तीर चलाए। वहीं देर शाम आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह भी गोहरी गांव पहुंचे। उन्होंने भी पीड़ित परिजनों से मुलाकात की और उन्हें ढांढस बताया।

Related Articles

Back to top button