Places to Visit in Monsoon: बरसात के दिनों में बना रहे हैं घूमने का प्लान तो ये हैं बेस्ट डेस्टिनेशंस, मन मोह लेंगे प्राकृतिक नजारे

भारत विविधता से भरा हुआ है। यहां पर हर 2 से 3 महीने के बाद मौसम भी बदलता है। अभी तक गर्मी की वजह से लोग परेशान हो रहे थे...

देहरादून। भारत विविधता से भरा हुआ है। यहां पर हर 2 से 3 महीने के बाद मौसम भी बदलता है। अभी तक गर्मी की वजह से लोग परेशान हो रहे थे लेकिन अब जल्द ही बारिश शुरू हो जाएगी। बारिश के सीजन में जितना चाय-पकौड़े खाने का मन करता है, उतना ही मन कहीं बाहर जाकर घूमने फिरने का भी होता है लेकिन अक्सर लोग कंफ्यूज रहते हैं कि इस मौसम में घूमने के लिए कहा जाया जा सकता है। तो आपकी ये कंफ्यूजन भी खत्म हो जाएगी क्योंकि आज हम आपको बताएंगे बारिश के मौसम में घूमने के लिए बेस्ट जगह कौन-कौन सी है।

places to visit in rainy season

शिलांग, मेघालय

जब मानसून में घूमने का मन हो तो शिलांग एक बेहतरीन डेस्टिनेशन बन सकता है। इस स्थान को ‘पूर्व का स्कॉटलैंड’ भी कहते हैं। बारिश के मौसम में इस जगह को घूमने के मकसद से भारत की बेस्ट जगह माना जाता है। दरअसल जब पूरा पहाड़ी शहर बारिश में भीग जाता है तो यहां कि सुंदरता और भी अधिक बढ़ जाती है। धुंध भरे बादल, हरे-भरे और खूबसूरत नजारों वाले झरनों के साथ, शिलांग सबसे अच्छा पर्यटन स्थल है।

क्या करें- खूबसूरत नजारों के साथ आस-पास के होटलों में रिलेक्स करना, एलीफेंट फॉल्स और स्प्रेड ईगल फॉल्स का दौरा करना। इसी के साथ यहां के लोकल खाने का स्वाद लेना। ये सब आपके मन को रोमांच से भर देगा।

कूर्ग, कर्नाटक

कूर्ग एक रोमांटिक डेस्टिनेशन है। यहां पर कई कपल्स हनीमून मनाने भी आते हैं। बारिश के मौसम में ये स्थान और भी खूबसूरत हो जाता है। वरिष्ठ में यहां के मनमोहक झरने, झीलें, कॉफी के बागान और टेस्टी खाना आपका मन मोह लेने के लिए काफी हैं।

क्या करें- यहां आने पर ट्रेकिंग, बर्ड वाचिंग, घुड़सवारी, कॉफी प्लांटेशन टूर का मजा यहां जरूर उठाएं।

कैसे पहुंचे- बैंगलोर से 5 घंटे की रोड ट्रैवल एक अच्छा ऑप्शन है। खासकर तब जब आप बारिश में खूबसूरत नजारों को एंजॉय करते हुए आना चाहते हैं। कुर्ग के सबसे समीप मैसूर हवाई अड्डा है जो यहां से 120 किमी, मैंगलोर जो 135 किमी दूर है और बैंगलोर 260 किमी पर स्थित।

कैसे पहुंचे- यहां से सबसे निकट हवाई अड्डा और रेलवे स्टेशन हैं। ये दोनों करीब 150 किमी की दूरी पर गुवाहाटी (असम) में स्थित हैं।

मुन्नार, केरल

जबरदस्त हरियाली लिए हुए ये स्थान बेहद खूबसूरत नजर आते हैं। बारिश के दिनों ने इस जगह को देखना और भी अधिक रोमांचकारी होता है। यह हिल स्टेशन मानसून के सीजन में अपनी सुंदरता के लिए भारत में पसंदीदा पर्यटन स्थलों में से एक बन गया है।

क्या करें- भीड़ से दूर मुन्नार ट्रेकिंग ट्रेल्स, दर्शनीय स्थलों, चाय के बागानों, नेचर का आनंद और टेस्टी केरल फूड के लिए प्रसिद्ध है।
कैसे पहुंचे- यहां आने में कोचीन से एनएच-49 से लगभग 3 घंटे का समय लगता है और यहां के सबसे निकट अलुवा और एर्नाकुलम रेलवे स्टेशन है। हवाई अड्डा कोचीन 110 किमी और मदुरै अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है जो 140 किमी की दूरी पर स्थित है।

दार्जिलिंग

बारिश के दिनों में दार्जिलिंग भी एक बेहतरीन डेस्टिनेशन साबित हो सकता है। पहाड़ों की रानी का जाने वाला दार्जिलिंग बारिश के मौसम में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह है। ये हिमालय की तलहटी में स्थित है।

क्या करें- मानसून के सीजन में चाय-बागान घूमें और टॉय ट्रेन की सवारी का आंनद उठायें। मानसून के दिनों में यहां भारी बारिश होती है। ऐसे में रिलेक्सिंग होटल के कमरों से भी खूबसूरत नजारों का मजा लिया जा सकता है।

कैसे पहुंचे- न्यू जलपाईगुड़ी सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है जो कोलकाता, दिल्ली, गुवाहाटी, चेन्नई, मुंबई, बैंगलोर, भुवनेश्वर और कोचीन जैसे बड़े भारतीय शहरों को जोड़ता है। साथ ही कोलकाता से सीधी उड़ान का भी ऑप्शन है जिसे आप ले सकते हैं।

रानीखेत, उत्तराखंड

रानीखेत उत्तराखंड के सबसे खूबसूरत पर्यटक स्थलों में से एक है। यहां आपको मानसून के दौरान आना चाहिए। यहां की पहाड़ियों से घिरी हुई प्राकृतिक सुंदरता देखते ही बनती है।

क्या करें- बरसात में यहां आने पर ट्रैकिंग और मंदिर की सैर करना एक अच्छा ऑप्शन है। उत्तराखंड के इस इलाके की सुंदरता हर किसी को मंत्रमुग्ध कर देने वाली है। यहां हरे-भरे जंगलों के साथ-साथ आप हिमालय पर्वत का नजारा एंजॉय कर सकते हैं।

कैसे पहुंचे- आप नई दिल्ली से काशीपुर जाएं और फिर काशीपुर से रानीखेत के लिए टैक्सी का सहारा ले सकते हैं क्योंकि यहां जाने के लिए कोई सीधी ट्रेन उपलब्ध नहीं है।

Related Articles

Back to top button