Panchayati Raj Department Up: नववर्ष पर सफाई कार्मिकों को मिलेगा सेवा नियमावली और पदोन्नति का तोहफा

उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ प्रतिनिधि मण्डल की पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज अपर मुख्य सचिव पंचायती राज....

Spread the love

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ प्रतिनिधि मण्डल की पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज अपर मुख्य सचिव पंचायती राज मनोज कुमार सिंह (Panchayati Raj Department Up) से दस सूत्रीय मांगों पर विस्तार से वार्ता सफल रही। वार्ता में मुख्य रूप से पंचायती राज ग्रामीण सफाई कार्मिकों की सेवा नियमावली बनाए जाने केे लिए अपर मुख्य सचिव ने कमेटी को अतिशीघ्र सेवा नियमावली प्रस्तुत करने तथा सफाई कार्मिकों की पदोन्नति के निर्देश दिये।

Panchayati Raj Department Up- sweeper organization

वार्ता में अपर मुख्य सचिव के अलावा निदेशक पंचायती (Panchayati Raj Department Up) राज अनुज कुमार झा, अपर निदेशक राजकुमार के अलावा कर्मचारी प्रतिनिधि मण्डल में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री आरके निगम, पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ (sweeper organization) के प्रदेश अध्यक्ष क्रांति सिंह, महामंत्री बंसतलाल, अजीत कुमार बाल्मिकी, रामकिशन बाल्मीकि,डीडी चौहान और राजू धानूक शामिल थे।

अपर मुख्य सचिव (Panchayati Raj Department Up) से वार्ता के दौरान मुख्य रूप से पुरानी पेंशन बहाली,पदोन्नति की व्यवस्था, विभागीय सेवा नियमावली,पे-रोल व्यवस्था समाप्ति, कर्मचारियों को कैशलेस कार्ड की सुविधा पंचायती राज कर्मचारियों का पदनाम पंचायत सेवक किए जाने की मांग पर विस्तार से चर्चा की गई। पदाधिकारियो ने इस दौरान अपर मुख्य सचिव से यह मांग भी रखी कि कई बार छोटी छोटी समस्याओं के कारण आकरण ही सफाई कार्मिकों को परेशान होना पड़ता है। ऐसी स्थिति में उक्त समस्याओं के समाधान के लिए शासनादेश के अनुसार प्रतिमाह मान्यता प्राप्त संघ के प्रतिनिधि मण्डल (sweeper organization) की जनपद, मण्डल और निदेशालय स्तर पर हर हाल में द्विपक्षीय वार्ता आयोजित की जाए।

मृतक आश्रित को उनकी योग्यता अनुसार मृतक सेवा नियमावली के आदेश का शतप्रतिशत अनुपालन कराते हुए समूह ग के पद पर नौकरी दी जाए। अपर मुख्य सचिव (Panchayati Raj Department Up) ने विस्तार से वार्ता के उपरान्त आश्वासन दिया कि सरकार उनकी हर मांग पर सहानुभूति पूर्वक विचार करेगी। उसी दौरान उन्होंने कमेटी को सेवा नियमावली और पदोन्नति का प्रस्ताव शीघ्र शासन को प्रेषित करने के निर्देश दिए।

क्या यूपी में टल जाएंगे विधानसभा चुनाव? इलाहाबाद हाईकोर्ट ने PM मोदी और चुनाव आयुक्त को दिया ये सुझाव

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button