पाकिस्तान ने वैरिएंट ओमिइक्रॉन के चलते दी कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज की मंजूरी

दुनिया भारत में कोरोना कम होने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में दुनिया के कुछ देशों में कोरोना का नया वेरिएंट सामने आया है। वैज्ञानिकों ने इसे अब तक का सबसे घातक और संक्रामक वेरिएंट बताया है। इसी बीच पाकिस्तान ने कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज की मंजूरी दे दी। यह खुराक सबसे पहले हेल्थकेयर वर्कर्स, कम इम्यूनिटी वाले लोगों और 50 साल से अधिक उम्र के लोगों को दी जाएगी।

Spread the love

दुनिया भारत में कोरोना कम होने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में दुनिया के कुछ देशों में कोरोना का नया वेरिएंट सामने आया है। वैज्ञानिकों ने इसे अब तक का सबसे घातक और संक्रामक वेरिएंट बताया है। इसी बीच पाकिस्तान ने कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज की मंजूरी दे दी। यह खुराक सबसे पहले हेल्थकेयर वर्कर्स, कम इम्यूनिटी वाले लोगों और 50 साल से अधिक उम्र के लोगों को दी जाएगी।

नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (एनसीओसी) ने इसकी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि इनके लिए यह टीके मुफ्त होंगे। आखिरी टीके की खुराक के छह महीने बाद बूस्टर डोज दी जाएगी। आपको बता दें कि पाकिस्तान ने बूस्टर डोज की ऐसे समय में मंजूरी दी है, जब दुनिया कोरोना वायरस वायरस के नए वैरिएंट ओमिइक्रॉन को लेकर चिंतित है।

फोरम ने जोर देकर कहा कि ओमिक्रॉन संस्करण विश्व स्तर पर तेजी से फैल रहा है और इसके खिलाफ एकमात्र सुरक्षा टीकाकरण है। इसके बाद, एनसीओसी ने एक दिसंबर यानी आजे से “अनिवार्य टीकाकरण व्यवस्था” को लागू करने के लिए सख्त कदम उठाने का फैसला किया है। प्रांतों और अधिकारियों को इसके कार्यान्वयन के संबंध में एक जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने का निर्देश दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button