OMG: इस शख्स ने मात्र 85 रुपये में विदेश में खरीदा घर, लेकिन इस वजह से पड़ गया बेचना

एक शख्स ने विदेश में बेहद सस्ती कीमत पर घर खरीदा लेकिन वह इसमें एक भी दिन रह नहीं पाया और इसे बेचने की नौबत आ गई। शख्स ने बताया है...

एक शख्स ने विदेश में बेहद सस्ती कीमत पर घर खरीदा लेकिन वह इसमें एक भी दिन रह नहीं पाया और इसे बेचने की नौबत आ गई। शख्स ने बताया है कि आखिर क्यों उसे अपना घर बेचना पड़ा। इस शख्स की उम्र 58 साल है और इसका नाम डैनी मैककुबिन है।

home buy

एक रिपोर्ट के मुतानिक डैनी मूल रूप से ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले हैं, लेकिन पिछले 17 वर्षों से वे लंदन में रह रहे हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि शख्स का कहना है कि उसने ‘Case 1 Euro’ प्रोजेक्ट के तहत बीते साल इटली में सिर्फ एक यूरो यानी 84 रुपये में एक घर खरीदा था। ये घर इटली के सिसिली में मुसोमेली नामक एक खूबसूरत शहर में है।

बता दें कि विदेशी लोग इटली के एक खास क्षेत्र में प्रॉपर्टी खरीद सकें इसके लिए ‘Case 1 Euro’ प्रोजेक्ट लॉन्च किया गया था। इसी प्रोजेक्ट के तहत डैनी मैककुबिन ने भी इटली के इस खूबसूरत शहर में घर खरीदा था लेकिन वो इस देश की एक शर्त को पूरा नहीं कर सके जिसकी वजह से उन्हे ये घर बेचना पड़ गया।

रिपोर्ट के मुताबिक मकान खरीदने के बाद पूर्ण स्वामित्व के लिए तीन साल के भीतर उसका रिनोवेशन करवाना अनिवार्य था लेकिन इस टाइम पीरियड में डैनी मकान के रिनोवेशन के लिए लेबर्स नहीं तलाश पाए क्योंकि कोरोना काल की वजह से इटली में कंस्ट्रक्शन वर्कर नहीं मिल रहे थे। हालांकि, जब उन्हें वर्कर्स मिलते तो रिनोवेशन चार्ज दोगुनी हो चुका था जिससे डैनी को मजबूरन अपना घर बेचना पड़ा।

रिपोर्ट में कहा गया है कि हाल के महीनों में इटली लेबर्स की भारी कमी की समस्या से जूझ रहा है। यही वजह है कि डैनी मैककुबिन को मकान के रखरखाव में काफी मुश्किल का सामना करना पड़ा। डैनी कहते हैं कि वे सिर्फ 11,000 लोगों के शहर मुसोमेली में शांत जीवन का आनंद लेना चाहता था, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी।

Related Articles

Back to top button