Chhath Puja 2021: अब दिल्ली के घाटों पर धूमधाम से होगी छठ पूजा, इन शर्तों के साथ मिली इजाजत

कोरोना महामारी की वजह से दिल्ली के घाटों छठ पूजा (Chhath Puja 2021) के लिए रोक अब हटा ली गयी है। इस साल घाटों पर छठ पूजा का आयोजन धूमधाम से किया जा सकेगा।

Spread the love

नई दिल्ली। कोरोना महामारी की वजह से दिल्ली के घाटों छठ पूजा (Chhath Puja 2021) के लिए रोक अब हटा ली गयी है। इस साल घाटों पर छठ पूजा का आयोजन धूमधाम से किया जा सकेगा। दिल्ली सरकार ने इसकी इजाजत दे दी है। इसकी जानकारी डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दी है। डिप्टी सीएम ने कहा, ”डीडीएमए की आज की बैठक में फैसला किया गया कि दिल्ली में छठ पूजा की इजाजत दी जाएगी लेकिन ये पूजा सरकार द्वारा पहले से तय किए गए स्थानों पर बहुत सख्त प्रोटोकॉल की जाएगी। COVID प्रोटोकॉल के पालन के साथ सीमित संख्या में लोगों को घाटों पर अनुमति दी जाएगी।’

Chhath Puja 2021

गौरतलब है कि 30 सितंबर को जारी एक आदेश में, दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए नदी के किनारे, घाटों और मंदिरों सहित सभी सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा (Chhath Puja 2021) के आयोजन को बैन कर दिया था। इस फैसले के विरोध में भाजपा नेता मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर प्रदर्शन किया था और छठ समारोह की अनुमति देने की मांग की थी।

10,000 लोगों के लिए एक स्पेशल कोविड-19 टीकाकरण अभियान

इसके बाद में बीते 14 अक्टूबर को मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल को एक पत्र लिखा था और दिल्ली में छठ पूजा (Chhath Puja 2021) की इजाजत देने की मांग की थी। छठपूजा की इजाजत के साथ ही राजधानी दिल्ली में अब पूजा में हिस्सा लेने वाले 10,000 लोगों के लिए एक स्पेशल कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू करने की घोषणा की गई है। केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी बुराड़ी के निकट कादीपुर से इस विशेष टीकाकरण अभियान की शुरुआत करेंगे।

Weather Updet: इन 5 राज्यों में होगी भारी बारिश, गिरेगा पारा, जानें अपने शहर का हाल

मुनस्यारी से लौट रही टैंपो ट्रैवलर खाई में गिरी, बंगाल के 5 टूरिस्टों की मृत्यु, 7 जख्मी

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री ने लिया बड़ा फैसला, चारधाम के पुराने मार्गों को खोजने के लिए बनाई टीम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button