Manipur Election: भाजपा में मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर क्यों हो रहा हंगामा

Manipur Election: मणिपुर 2022 इलेक्शन के लिए वोटिंग में चंद ही दिन बचे हैं. ऐसे में सीएम फेस के चयन को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा में हलचल तेज हो गई है।

Manipur Election

इलेक्शन (Manipur Election) से पहले मुख्यमंत्री के फेस की घोषणा नहीं करने के भाजपा आलाकमान के फैसले ने इम्फाल में अटकलों को हवा दी है कि पार्टी बीते वर्ष असम में और चुनावी नतीजों के बाद वर्तमान सीएम को दोहरा सकती है। एन. बीरेन सिंह की जगह कोई नेता सीएम पद के लिए चुना जा सकता है।

असम की झलक मणिपुर में दिख रही

2021 के मई में हुए असम विधानसभा इलेक्शन में निरंतर दूसरी मर्तबा सत्ता में आने के बावजूद, भाजपा नेतृत्व ने सर्बानंद सोनोवाल के बजाय वरिष्ठ मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा को सीएम की कुर्सी सौंपीष हालांकि सोनोवाल को बाद में राजधानी दिल्ली लाया गया और नरेंद्र मोदी कैबिनेट में शामिल किया गय। वह मौजूदा समय में केंद्रीय बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्री हैं।

मणिपुर में होगा दो फेज़ में इलेक्शन

60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा (Manipur Election) के लिए दो फेज़ों में 27 फरवरी और 3 मार्च को वोटिंग होनी हैं. मतो की गिनती 10 मार्च को होगी. बीरेन सिंह ने बीते महीने एक मीडिया को दिए इंटरव्यू में कहा था कि मुझे इस मामले में कुछ नहीं कहना है। यह भाजपा को तय करना है कि वे किसे मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाना चाहते हैं।

आपको बता दें कि सन् 2017 के विधानसभा इलेक्शन से कुछ महीने पहले कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में आए बीरेन का सीएम के रूप में पांच वर्षों का सफर कुछ खास नहीं रहा।

Related Articles

Back to top button