Mamta Banerjee : यूपी से योगी को जाने दो, अबकी बार अखिलेश की सरकार बनाओ

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Assembly Election) के लिए समाजवादी पार्टी को अपना समर्थन देते हुए बीजेपी पर निशाना साधा. राजधानी लखनऊ में अखिलेश के साथ संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में दीदी ने कहा कि यूपी से योगी जी को जाने दो, अगर वह आ जाएगा तो आपलोगों को पूरा खा जाएगा.

लखनऊ: सोमवार देर शाम लखनऊ पहुंची पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने आज समाजवादी पार्टी कार्यालय में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के लिए जनता से वोट मांगते हुए जीत की अपील की. इस दौरान उन्होंने भाजपा पर ताबड़तोड़ हमले करते हुए कहा कि अबकी बार अखिलेश 300 पार. लखनऊ में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में ममता बनर्जी ने कहा कि मैं पहले यूपी की जनता का स्वागत करना चाहती हूं. मैं आभारी हूं कि भाई अखिलेश यादव ने मुझे यूपी बुलाकर अच्छा रिश्ता बनाने का काम किया है. मैं उनका स्वागत करती हूं.

Mamta Banerjee

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Assembly Election) के मैदान में मंगलवार को दस्तक दी. भले ही उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (Trinmool Congress) यूपी चुनाव (UP Chunav) में नहीं उतर रही है, लेकिन उन्होंने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के समर्थन में उतरने का निर्णय लिया है.राजधानी लखनऊ में अखिलेश के साथ संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में दीदी ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि यूपी से योगी जी को जाने दो, अगर वह आ जाएगा तो आपलोगों को पूरा खा जाएगा.

भाजपा पर निशाना साधते ममता बनर्जी ने कहा कि हम आयोग का निर्देश मानकर काम कर रहे हैं. हमारे लिए यही लोकतंत्र है. पश्चिम बंगाल में अखिलेश यादव ने हमारे लिए समर्थन किया था. मैं कहना चाहती हूं हम सब लोग मिलकर भाजपा को हराने का काम करेंगे. देश को भाजपा से बचाने के लिए आज जरूरी है कि भाजपा को हराया जाए.ममता बनर्जी ने कहा कि देश के लिए जिन लोगों ने कुर्बानी दी है उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं. यूपी का इतिहास बहुत पुराना है. यूपी ने देश को कई पीएम दिए हैं. गंगा सागर मेला हमारे यहां होता है. यूपी-बिहार से 40 लाख लोग मेले में हिस्सा लेने आते हैं. हम किसी से धर्म प्रान्त नहीं पूछते हैं. क्योंकि सब हिन्दू हैं. कोई बनारस, मथुरा तो कोई पश्चिम यूपी, उन्नाव, लखनऊ में रहता है. दिल से दिल मिलाकर लोग काम करते हैं.

योगी राज में कानून व्यवस्था की हालत बहुत ही खराब है. हाथरस, उन्नाव में घटनाएं हुई. कोविड में गंगा मैया में शव फेंका गया जो बहकर पश्चिम बंगाल तक पहुंच गया. फिर धर्म के अनुसार उनका अंतिम संस्कार किया गया. तब योगी कहां थे. पश्चिम बंगाल में ममता को हराने वाला आया था. आज कोविड के समय क्यों नहीं आया.प्रदेश सरकार पर निशाना साधते ममता बनर्जी ने कहा कि जब कोविड में लोग मरे तो आपके पास लकड़ी नहीं थी. पानी मे आग लगा दिया. पहले माफी फिर वोट मांगों. हमने स्कूल में फ्री में स्कूटी साइकिल दिया है. भारत सरकार से सबसे ज्यादा पैसा यूपी को देने का दावा नरेंद्र मोदी करते हैं.

कोविड से, आंदोलन से, CAA से जो लोग मरे उन्हें पहले नौकरी दो. यह घोषणा पत्र में लिखो पहले, सिर्फ झूठ बोलकर राजनीति नहीं चलेगी. बेटी पढ़ाओ के नाम पर बेटी हटाओ होता है. यूपी में एनकाउंटर के नाम पर बहुत लोगों को मार दिया गया. हम सब लोगों को एक साथ रहना है. भाजपा इतिहास को बदल रही है. देश को नष्ट कर रही है. अमर ज्योति को नष्ट कर दिया है. बाबा साहेब के संविधान से खिलवाड़ किया जा रहा है. यूपी को भाजपा नहीं चाहिए.आज हमारे पास ब्राह्मण समाज के लोग आए थे अखिलेश यादव को समर्थन करेंगे. हम सांप्रदायिकता की राजनीति नहीं करते. बीजेपी को सांप्रदायिकता की राजनीति पसंद है. बीजेपी पर निशाना साधते ममता बनर्जी ने कहा कि हमारे यहां महापुरुष के नाम पर विश्वविद्यालय हैं. भाजपा हिंदुस्तान के लिए खतरा पार्टी बन गई है. मैं सबसे अपील करती हूं कि बीजेपी को हराने का काम करें. हम लोग देखेंगे कैसे डराते हैं. केंद्रीय एजेंसियों से डराएंगे भी. जो डरते हैं मरते हैं, जो लड़ते हैं जीतते हैं. हर घर में अखिलेश को पहुंचाओ. यूपी हमारा मां है. यूपी हमारा दिल है. चुनाव के समय कुछ लोग संत बन जाते हैं. पश्चिम बंगाल के चुनाव के दौरान ईडी-सीबीआई को घर-घर भेजा गया. उसके बाद भी बीजेपी पश्चिम बंगाल में हार गई.

इससे पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ममता बनर्जी का स्वागत करते कहा कि आज समाजवादी पार्टी के लिए बहुत गर्व की बात है कि नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जन्मभूमि की नेता ममता बनर्जी हमारे बीच में उपस्थित हैं. बंगाल चुनाव पर पूरे देश की नजर थी और ममता बनर्जी ने साम्प्रदायिक ताकतों को हराने का काम किया था. भाजपा के बड़े नेताओं की फौज भी काम नहीं आई. दीदी ममता बनर्जी जी पश्चिम बंगाल से यूपी आ गईं लेकिन दिल्ली वाले यूपी नहीं आ पाए.सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि दीदी के आने के बाद 10 मार्च को जीत का रसगुल्ला मिलकर खाएंगे. बंगाल की ऐतिहासिक लड़ाई लड़ी जो तरक्की खुशहाली के साथ हमारी मिली जुली तहजीब है. उसे आगे बढ़ाना है.

Related Articles

Back to top button