Loudspeaker Controversy: UP के इस जिले में अब शांति से होगी पूजा-अजान, मंदिर-मस्जिद से उतारे गए माइक

देश भर में चल रहे लाउडस्पीकर विवाद के बीच उत्तर प्रदेश में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के आदेश के बाद इस सम्‍बन्‍ध में गाइडलाइन जारी...

जौनपुर। देश भर में चल रहे लाउडस्पीकर विवाद के बीच उत्तर प्रदेश में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के आदेश के बाद इस सम्‍बन्‍ध में गाइडलाइन जारी हो चुकी है। इसके बाद अब जौनपुर में शांति से अजान और हनुमान चालीसा का पाठ करने की व्यवस्था में लोग जुट गए हैं। पुलिस में मौजूदगी में यहां पिछले तीन दिन से मंदिरों और मस्जिदों पर लगे लाउडस्‍पीकर उतारे जा रहे हैं।

Loudspeaker Controversy

अब तक जिले के अटाला और शाहीपुल सहित लगभग एक दर्जन मस्जिदों और मंदिरों पर से लाउडस्‍पीकर उतारे जा चुके हैं। बता दें कि जिन मंदिरों और मस्जिदों में चार या उससे अधिक माइक लगे थे वहां लोगों ने खुद ही पहल करके दो लाउडस्‍पीकर कम कर लिए है।

वहीं कई स्‍थनों पर लाउडस्‍पीकरों की आवाज काफी धीमी कर दी गई है। ये सब कार्रवाई बीते दो दिन से जौनपुर में सीओ सिटी की अगुवाई में चल रही है। बता दें कि आने वाले त्‍योहारों पर शांति व्‍यवस्‍था बनाये रखने के उद्देश्य से जौनपुर में एसपी सिटी ने धर्मगुरुओं के साथ बैठक की और सभी धर्म के लोगों से त्‍योहारों के दौरान आपसी भाईचारा और सौहार्द कायम रखने की अपील की।

गौरतलब है कि प्रदेश की योगी सरकार ने धार्मिक स्‍थलों पर माइक की आवाज को धार्मिक परिसर तक ही सीमित रखने का आदेश दिया है। उन्होंने अपने आदेश में कहा कि माइक का इस्तेमाल किया जा सकता है, लेकिन यह सुनिश्चित हो कि माइक की आवाज धार्मिक परिसर से बाहर न आये जिससे अन्य लोगों को कोई असुविधा हो। इतना ही नहीं उन्होंने अपने आदेश में ये भी कहा है कि नए स्थलों पर माइक लगाने की इजाजत न दी जाये।

4 मई तक रद्द हुईं पुलिसकर्मियों की छुट्टियां

त्योहारों पर एहतियात बरतने के मकसद से प्रदेश में पुलिस अधिकारियों की छुट्टियां चार मई तक के लिए रद्द कर दी गई हैं। बीते दिनों मुख्यमंत्रीयोगी आदित्‍यनाथ के निर्देश पर चीफ सेक्रेटरी ने इस सम्‍बन्‍ध में आदेश जारीकिया था। इस आदेश के बाद पहले से ही अवकाश पर गए पुलिस कर्मियों को भी वापस बुला लिया गया है।

Related Articles

Back to top button