कांवड़ यात्रा पर आतंकी हमले का मिला इनपुट, हाई अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां और जिला प्रशासन

बीते 14 जुलाई से सावन का पवित्र महीना शुरू हो चुका है। सनातन धर्म में बताया या है कि सावन का पूरा महीना भगवान महादेव के...

देहरादून। बीते 14 जुलाई से सावन का पवित्र महीना शुरू हो चुका है। सनातन धर्म में बताया या है कि सावन का पूरा महीना भगवान महादेव के लिए समर्पित होता है। इस महीने में शिवभक्त भगवान भोले . नाथ की विधि-विधान से पूजा अर्चना करते हैं। इस महीने में हर साल हरिद्वार में शिवभक्तों का हुजूम उमड़ता है। भक्त कांवड़ यात्रा पर निकालते हैं और शिवरात्रि के दिन शिवमंदिरों में गंगाजल से जलाभिषेक करते हैं लेकिन इस वर्ष की कांवड यात्रा खतरे में हैं क्योंकि उस पर आतंकियों की नापाक नजर है जिसे लेकर सुरक्षा एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है।

Kanwar Yatra

बता दें कि देश की मौजूदा हालत को देखते हुए कांवड यात्रा पर आतंकवादी खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली और मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों को अलर्ट जारी कर दिया है। कांवड यात्रा पर आतंकी खतरे को देखते हुए हरिद्वार से लेकर ऋषिकेश तक सुरक्षा व्यवस्था बेहद सख्त कर दी गई है।
गौरतलब है कि हर साल सावन के पवित्र महीने में लाखों शिवभक्त यूपी, हरियाणा, दिल्ली, मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्यों से हरिद्वार, ऋषिकेश पहुंचकर पवित्र गंगा जल भरकर कावड़ उठाते हैं।

कोरोना की वजह से पिछले दो साल तक कांवड यात्रा बंद रही जिसकी वजह से इस बार करोड़ों की संख्या में शिवभक्तों के उत्तराखंड पहुचंने का अनुमान है। शिवभक्तों के सैलाब को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम भी कर दिए हैं। वहीं अब केंद्रीय गृह मंत्रालय की चेतावनी के बाद अब राज्य पुलिस हाई अलर्ट पर आ गई है। आशंका जताई जा रही है कि आतंकी कांवड़ियों के भेष में किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे देने की फ़िराक में हैं।

Related Articles

Back to top button