Indian Railway: मंदिर-मस्जिद की वजह से बंद किया जा सकता है यहां का रेलवे स्टेशन, जारी किया गया नोटिस

रेलवे इन दिनों अपनी भूमि से अतिक्रमण हटाने में जुटा है। इसी कड़ी में उसके उत्तर मध्य जोन ने प्रदेश के आगरा जिले में स्थित में भूरे शाह बाबा...

आगरा। रेलवे इन दिनों अपनी भूमि से अतिक्रमण हटाने में जुटा है। इसी कड़ी में उसके उत्तर मध्य जोन ने प्रदेश के आगरा जिले में स्थित में भूरे शाह बाबा की मजार और चामुंडा देवी मंदिर प्रशासन को नोटिस जारी किया है। रेलवे द्वारा मजार की देखरेख करने वाले सज्जादा नाशिम को 25 अप्रैल को भेजी गई नोटिस में कहा गया है कि ये मजार आगरा छावनी रेलवे बोर्ड के स्वामित्व वाली जमीन पर बनाई गयी और 182.57 वर्ग मीटर जमीन ‘अवैध रूप से कब्जा की गयी है।

Indian Railway

नोटिस में मजार के निर्माण के बचाव के लिए जरुरी दस्तावेज 13 मई तक बोर्ड के सामने पेश करने को कहा गया है। नोटिस में सज्जाद नाशिम को मजार के स्वामित्व को साबित करने और 13 मई को सुनवाई में पेश होने का निर्देश दिया गया है। नोटिस में ये भी कहा गया है कि अगर मजार की देखरेख करने वाले इस तारीख पर पेश नहीं होते तो अधिकारी और कोर्ट एक पक्ष की दलील सुनने के बाद ही आदेश जारी कर देंगे।

चामुंडा देवी मंदिर के पुजारी को भी मिला नोटिस

इधर चामुंडा देवी मंदिर के प्रमुख पुजारी को भी12 अप्रैल को नोटिस भेजा गया था। इस नोटिस में रेलवे ने कहा कि मंदिर का एक हिस्सा राजा की मंडी रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या एक पर अतिक्रमण कर रहा है जिससे यात्रियों को असुविधा हो रही है। साथ ही ट्रेनों के आवागमन पर भी असर पड़ रहा है। नोटिस में रेलवे की जमीन से मंदिर के हिस्से को हटाने के लिए मंदिर प्रशासन को 10 दिन का समय दिया गया है।

Related Articles

Back to top button