Human Coronavirus ने फिर धारण किया रौद्र रूप, दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती हुए इतने संक्रमित बच्चे

दिल्ली-एनसीआर में कोरोना महामारी (Human Coronavirus) ने एक बार फिर से अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। इस बार ये महामारी बच्चों को अपना शिकार बना रही है...

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में कोरोना (Human Coronavirus) महामारी ने एक बार फिर से अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। इस बार ये महामारी बच्चों को अपना शिकार बना रही है। सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक कोरोना संक्रमित 14 बच्चों को दिल्ली के निजी और सरकारी अस्पतालों में एडमिट किया गया है। इनमें से अधिकतर कोमोरबिडिटी है। इस बार बच्चों के अधिक संक्रमित होने की खबर ने माता-पिता को परेशानी में डाल दिया है।

Children Covid Positive - Human Coronavirus

बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले कुछ दिनों में कोविड के मामलों और संक्रमण दर में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 366 नए मामले दर्ज किये गए, जबकि संक्रमण दर बढ़ कर 3.95 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई। (Human Coronavirus)

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन पर गौर करें तो दिल्ली में कोरोना के कुल 685 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों के लिए 9,735 बेड्स हैं जिनमे से 51 (0.52 प्रतिशत) अभी भरे हुए हैं। दिल्ली में बीते गुरुवार को संक्रमण के 325 नए मामले सामने आए थे। इसके साथ ही संक्रमण दर 2.39 फीसदी रही थी। (Human Coronavirus)

बुधवार को कोविड के 299 मामले दर्ज किये गए थे और संक्रमण दर 2.49 फीसदी थी। राजधानी में कोविड के बढ़ते मामलों को देखते सभी अस्पतालों को अलर्ट मोड में रहने की सलाह दी गई है। दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। वहीं, बीते दिनों मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि सरकार स्थिति पर कड़ी नजर रखे हुए है। (Human Coronavirus)

Rare Disease की वजह से युवक ने 6 महीने में खोई 4 नौकरी, इलाज से भी नहीं हो रहा ठीक

Youtube से सीखकर कर रहे थे छापे जाली नोट, इतने हजार नोटों से की खरीदारी, ऐसे आये पुलिस की गिरफ्त में

Brutal Murder: एक परिवार के पांच लोगों की मौत से सनसनी, बहनों ने लगाया हत्या का आरोप

Related Articles

Back to top button