Kailash Mansarover रूट बंद होने से चीन सीमा पर जान जोखिम में डालकर आने-जाने को मजबूर ग्रामीण

उत्तराखंड में कैलाश मानसरोवर मार्ग पर चीन सीमा को जोड़ने वाली तवाघाट-लिपुलेख सड़क पर अभी यातायात का संचालन नहीं शुरू हो सका है।

पिथौरागढ़। उत्तराखंड में कैलाश मानसरोवर मार्ग पर चीन सीमा को जोड़ने वाली तवाघाट-लिपुलेख सड़क पर अभी यातायात का संचालन नहीं शुरू हो सका है। दरअसल, लगातार बारिश की वजह से इसे खोलने में विभाग को काफी परेशानी हो रही है। यहां खड़ी पहाड़ी से बार-बार बोल्डर गिरने के चलते बीआरओ सड़क नहीं खोल पा रहा है।

वहीं सड़क न खुलने से ग्रामीणों को भी काफी मुश्किल झेलनी पड़ रही है और उन्हें काली नदी पार कर नेपाल के रास्ते भारत वापस आना पड़ रहा है। एक तार के सहारे काली नदी के उफान को पार करना बेहद खतरनाक होता है लेकिन ग्रामीण इसे पार करने को मजबूर है। स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से इस सड़क को शीघ्र खोलने की मांग की है। बता दें कि तवाघाट-लिपुलेख सड़क पर मलघाट के पास सड़क बंद होने से लोगों के लिए आवाजाही काफी मुश्किल आ रही है। सड़क बंद होने से कई बार बीमार लोगों का रेस्क्यू हेलीकॉप्टर से किया जा रहा है तो वहीं, अन्य लोग पैदल जोखिम भरे रस्ते से आ जा रहे हैं।

स्थानीय लोगों के साथ ही यहां आने वाले पर्यटकों और सीमा की निगरानी कर रहे जवानों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं बीआरओ का कहना है कि जेसीबी रोज कुछ मीटर सड़क खोल रही है, लेकिन तेज बारिश के चलते सड़क फिर से बंद हो जा रही है। बोल्डरों के अचानक से गिरने से मजदूरों को अपनी जान बचाकर भागना पड़ रहा है। ऐसे में मौसम साफ होने के बाद ही रोड खुलने को लेकर स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

Related Articles

Back to top button