काठगोदाम से अमृतसर रेल सेवा व आनंद कारज एक्ट लागू करने की मांग

चुघ ने कहा कि कुमाऊं क्षेत्र से प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में सैनिकों का पाकिस्तान सीमा जो पंजाब से लगती है आना जाना लगा रहता है

Spread the love

रुद्रपुर॥ सीएम पुष्कर सिंह धामी के गत दिवस महानगर आगमन पर भाजपा चुनाव प्रबंधन समिति के प्रदेश सह संयोजक भारत भूषण चुघ ने उन्हें दो सूत्रीय ज्ञापन सौपकर मांगों का अपने स्तर से शीघ्र समाधान कराने का आग्रह किया। सौंपे गये ज्ञापन में चुघ ने काठगोदाम से अमृतसर के लिए प्रतिदिन रेल सेवा प्रारंभ कराने का आग्रह किया गया।

dhami1

चुघ ने कहा कि कुमाऊं क्षेत्र से प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में सैनिकों का पाकिस्तान सीमा जो पंजाब से लगती है आना जाना लगा रहता है। यह रेल सेवा प्रारंभ होने से देश के कुमाऊं वासी सैनिकों के लिए बेहतर कार्य होगा। उन्होंने बताया कि अमृतसर स्थित स्वर्ण मंदिर एवं व्यास स्थित राधा स्वामी सत्संग के साथ पंजाब स्थित अन्य धार्मिक स्थलों के लिए भी प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु आवागमन करते हैं।

चुघ ने कहा कि पंजाब के अमृतसर, जालंधर, लुधियाना आदि प्रमुख व्यापारिक क्षेत्र हैं जहां कुमाऊं क्षेत्र के सैकड़ों व्यापारी कार्य हेतु जाते हैं। यह रेल सेवा प्रारंभ होने से उत्तराखंड की व्यापारिक गतिविधियां भी तेज होंगी इससे राज्य का राजस्व बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि कुमाऊं क्षेत्र में विशेषकर तराई इलाके के हजारों निवासियों के पंजाब के अनेक शहरों में पारिवारिक संबंध हैं जहां प्रतिदिन सैकड़ों लोग आवागमन करते हैं। इस रेल सेवा के प्रारंभ होने से इसका सामाजिक लाभ मिलेगा।

उत्तराखंड को होगा इसका फायदा

चुघ ने कहा कि सीएम धामी के प्रयासों से यदि काठगोदाम से अमृतसर प्रतिदिन रेल सेवा प्रारंभ होती है तो जहां रेल विभाग के राजस्व में प्रतिदिन भारी बढोत्तरी होगी वही राज्य वासियों विशेषकर कुमाऊं क्षेत्र के लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा। साथ ही साथ राज्य में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। जिसका फायदा सीधे-सीधे राज्य को मिलेगा।

इस समाज के लोगों को उठानी पड़ी परेशानियां

चुघ ने सीएम धामी से राज्य में सिख व पंजाबी समाज के हित में हिंदू मैरिज एक्ट के समान ही आनंद कारज एक्ट लागू करने का भी आग्रह किया। उनका कहना था कि देश के कई राज्यों में आनंद कारज एक्ट लागू हो चुका है लेकिन सिख समाज द्वारा कई बार पूर्व में आग्रह करने के बाद भी देवभूमि उत्तराखंड में आनंद कारज एक्ट लागू नहीं किया जा सका। जिस कारण प्रदेश के सिख समाज को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा यदि राज्य में आनंद कारज एक्ट लागू किया जाता है तो सिख समाज को देश विदेश की यात्रा के दौरान परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। चुघ ने सीएम धामी से जनहित में प्रतिदिन काठगोदाम से अमृतसर रेल सेवा प्रारंभ कराने एवं देवभूमि उत्तराखंड में आनंद कारज एक्ट लागू करने का आग्रह किया।

धामी ने भाजपा नेता चुघ को भरोसा दिलाया कि वह इस संदर्भ में आवश्यक कार्रवाई करेंगे। राज्य के कुमाऊं क्षेत्र के निवासियों एवं सिख समाज को निराश नहीं होने दिया जायेगा। चुघ ने सीएम द्वारा आश्वासन देने पर उनका आभार व्यक्त किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button