Congress :अब इस फार्मूले पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, खुद गांधी परिवार से हो सकती है शुरुआत

कांग्रेस ने उदयपुर में होने वाले चिंतन शिविर से पहले बड़े बदलाव की योजना बना ली है। गत दिवस यानी सोमवार को हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी...

नई दिल्ली। कांग्रेस ने उदयपुर में होने वाले चिंतन शिविर से पहले बड़े बदलाव की योजना बना ली है। गत दिवस यानी सोमवार को हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में एक परिवार से एक ही व्यक्ति को टिकट देने और अहम पद पर रहने के बाद तीन साल कूलिंग ऑफ पीरियड होने और पैनलों में बड़ी संख्या को कम करने जैसे प्रस्तावों पर स्वीकृति बनी।

CONGRESS

कांग्रेस सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि पार्टी आलाकमान को सुझाव दिया गया था कि प्रदेश अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष या राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल नेताओं को एक कार्यकाल पूरा होने के बाद तीन वर्षों तक पद से दूर रखा जाना चाहिए। इस मुद्दे पर सहमति बन गई है। इसके साथ ही एक परिवार से एक ही व्यक्ति को टिकट दिए जाने पर भी सहमति बनी है। पार्टी का मानना है कि इस फैसले से भाजपा की तरफ से लगाए जा रहे परिवारवाद के आरोपों का जवाब दिया जा सकेगा।

बता दें कि आने वाले 13 से 15 मई तक उदयपुर में कांग्रेस का चिंतन शिविर होना है। इसमें इन सभी प्रस्तावों को पेश किया जाएगा। बताया जा रहा है कि 2024 में होने वाले लोक सभा चुनाव से पहले पार्टी उन सभी पेचों को कस लेना चाहती है, जहां किसी भी तरह की ढिलाई नजर आ रही है। इसी के तहत उसने पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और मध्य प्रदेश में नए प्रदेश अध्यक्षों की नियुक्ति की है।

वहीं उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों के लिए भी योजना बनाने में जुटी है। इतना ही नहीं पार्टी राजस्थान और छत्तीसगढ़ पर भी बारीकी से नजर रख रही है। इस दोनों राज्यों में इसी साल के अंत में चुनाव होने वाले हैं। 13 से 15 तक आयोजित होने वाले इस चिंतन शिविर में 400 पार्टी नेता शामिल होंगे।

खुद गांधी परिवार पर भी लागू होगा फैसला?

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद एक नेता ने बताया कि, ‘एक परिवार, एक टिकट के प्रस्ताव पर सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका ऐलान करेंगे। बताया जा रहा है कि ये भी ऐलान किया जा सकता है कि 2024 के आम चुनाव में खुद गांधी परिवार से भी एक ही व्यक्ति चुनाव लड़ेगा।

Related Articles

Back to top button