CM धामी ने की High-Level Meeting, कहा- ‘घटनाओं को गंभीरता से लें अधिकारी’

उत्तराखंड के ऋषिकेश में हुए अंकिता भंडारी हत्याकांड के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर एक उच्चस्तरीय बैठक की...

देहरादून। उत्तराखंड के ऋषिकेश में हुए अंकिता भंडारी हत्याकांड के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर एक उच्चस्तरीय बैठक की। बैठक में सीम धामी ने अफसरों को कानून-व्यवस्था से जुड़ी किसी भी घटना को गंभीरता से लेने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था से जुड़ी कोई भी घटना, चाहे वह राजस्व क्षेत्र की हो या पुलिस क्षेत्र की, जिसे भी सूचना मिले उसे गंभीरता से लिया जाये और उस पर त्वरित कार्रवाई की जाये।

बैठक में मुख्यमंत्री ने प्रदेश में वन क्षेत्र या अन्य क्षेत्रों में होटल, रिसोर्ट या धार्मिक कार्यों के लिये हो रहे अवैध कब्जे का चिन्हीकरण कर उस पर सख्ती के साथ त्वरित कार्रवाई करने को भी कहा। इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रदेश के मदरसों के सत्यापन और डेमोग्राफिक चेंज के मामलों में भी सख्ती बरतने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि जनपद स्तर पर सभी संबंधित बिन्दुओं का कैलेंडर तैयार कर उनकी पाक्षिक या फिर मासिक समीक्षा कर रिपोर्ट तैयार की जाये और उसे शासन को उपलब्ध कराई जाए।

धामी ने कहा कि हाल में हुई कई घटनाओं की वजह से प्रदेश की छवि धुमिल हुई है। इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए। ऐसे में जरूरी है कि इस दिशा में सभी अधिकारी सर्तकता एवं जिम्मेदारी के साथ कार्य करें। उन्होंने कहा कि देवभूमि हमारा प्रदेश है, यहां अमन, चैन व शांति हम सबकी जिम्मेदारी है। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि अपराधी कोई भी हो उसे बख्शा न जाए।

15 अक्टूबर तक गड्ढा मुक्त हों सड़कें

बैठक में मुख्यमंत्री ने राज्य में मौजूद सड़कों की स्थिति की जानकारी प्राप्त की और 15 अक्टूबर तक अभी सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने अवैध शराब और अवैध खनन पर भी प्रभावी नियंत्रण करने को अधिकारीयों को निर्देशित किया। प्रदेश में बढ़े डेंगू के रोगियों की संख्या को देखते हुए इसके रोकथाम की भी कारगर व्यवस्था करने के निर्देश मुख्यमंत्री धामी ने अफसरों को दिये।

Related Articles

Back to top button