चीन इस तरह पाकिस्तान को दे रहा धोखा, खुलासा होने पर दोनों देश के रिश्तों में कड़वाहट

पाकिस्तान और चीन के बीच रिश्ते दुनिया के सामने उजागर है, लेकिन इन दोनों देशों की बीच दोस्ती में दरार भी सामने आने लगी है.

Spread the love

पाकिस्तान और चीन के बीच रिश्ते दुनिया के सामने उजागर है, लेकिन इन दोनों देशों की बीच दोस्ती में दरार भी सामने आने लगी है. आपको बात दें कि पाकिस्तानी सेना अपनी मजबूती बढ़ाने के लिए काफी हद तक चीन पर निर्भर है। लेकिन पाकिस्तान रक्षा बलों को चीन से मिलने वाली आधुनिक हथियारों की सप्लाई की वजह से अब दोनों देशों के बीच कड़वाहट पैदा हो रही है।


आपको बता दें कि खराब गुणवत्ता वाले चीनी सैन्य हार्डवेयर और घटिया सर्विसिंग व रखरखाव के चलते इस्लामाबाद और पेइचिंग के बीच तनाव आ गया है। वहीँ Al Mayadeen के लिए एक ब्लॉग पोस्ट में निसार अहमद ने लिखा कि चीन और पाकिस्तान अक्सर एक दूसरे के कब्जे वाले इलाके में एक-दूसरे के रुख का समर्थन करते हैं।

वहीँ ज्ञात हो कि अल मायादीन की रिपोर्ट के मुताबिक हाल ही में चेंगदू एयरक्राफ्ट इंडस्ट्री ग्रुप ऑफ चाइना की ओर से डिजाइन किए गए और CATIC की ओर से बेचे गए तीन सैन्य ड्रोन ‘सहयोग’ के रूप में जनवरी 2021 में पाकिस्तान एयर फोर्स में शामिल हुए थे। चीन के ये सैन्य उपकरण पाकिस्तानी सेना को मजबूत करने के बजाय उनके लिए सिरदर्द बन गए हैं।

बता दें कि अहमद ने कहा कि चीन में बनाई गई लूंग, मानवरहित हवाई प्रणाली (यूसीएवी) को पाकिस्तान सेना में शामिल किए जाने के कुछ दिनों के भीतर ही खराब होने के कारण रोक दिया गया है। चीन के सैन्य ड्रोन को लेकर Amader Shomoy ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि पाकिस्तान ने सिर्फ चीनी फर्म की ‘खराब सेवा और घटिया रखरखाव’ को सेना में शामिल किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button