Chardham yatra 2022: बाबा केदार के दर्शन के लिए उमड़ी भीड़, सोनप्रयाग और गौरीकुंड में रोके गए यात्री

केदारनाथ धाम में बाबा के दर्शनों के लिए उमड़ भीड़ को नियंत्रित करने के लिए उत्तराखंड प्रशासन ने हजारों यात्रियों को सोनप्रयाग और गौरीकुंड में दो-दो घंटे...

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम में बाबा के दर्शनों के लिए उमड़ भीड़ को नियंत्रित करने के लिए उत्तराखंड प्रशासन ने हजारों यात्रियों को सोनप्रयाग और गौरीकुंड में दो-दो घंटे तक के लिए रोक दिया। इसके बाद जब पैदल मार्ग पर भीड़ कुछ कम हुई तो यात्रियों को केदारनाथ के लिए भेजा गया। बुधवार को सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक लगभग 26470 यात्री सोनप्रयाग से केदारनाथ धाम के लिए रवाना हुए। बीते छह दिनों में यह दूसरा मौका है, जब इतनी भारी संख्या में यात्री बाबा के दर्शन के लिए भेजे गए हैं।

Chardham yatra 2022

मिली जानकारी के अनुसार यात्रा मार्ग पर भारी दबाव को देखते हुए यात्रा के मुख्य पड़ाव सोनप्रयाग और गौरीकुंड में बुधवार को दोपहर 12 से 2 बजे तक दो-दो घंटे के लिए यात्रियों को रोके रखा गया। यात्रा कंट्रोल रूम से पता चला है कि सुबह 8 बजे तक 18620 यात्रियों ने सोनप्रयाग से केदारनाथ के लिए प्रस्थान किया था। वहीं धाम से दर्शन कर वापस लौट रहे यात्रियों की वजह से रास्ते पर दो तरफा काफी भीड़ रही, जिसे देखते हुए मुख्य दोनों पड़ावों पर यात्रियों को रोका गया।

आईटीबीपी तैनात

बता दें कि यात्रियों की सुरक्षा और यात्रा इंतजाम के लिए आईटीबीपी की एक प्लाटून को तैनात किया गया है। यह प्लाटून मंदिर परिसर और मंदिर मार्ग पर दर्शनों के लिए खड़े तीर्थ यात्रियों की मदद करेगी। पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल से मिली जानकारी के अनुसार एक प्लाटून में 30 आईटीबीपी के जवान हैं। वहीं, सोनप्रयाग और गुप्तकाशी में भी एक-एक प्लाटून को तैनात किया गया है। इसके अतिरिक्त पुलिस, एसडीआरएफ, डीडीआरएफ, यात्रा मैनेजमेंट फोर्स के जवान पहले से ही तैनात किये गए हैं।

Related Articles

Back to top button