Chardham Yatra: अब तक 195 श्रद्धालुओं को गंवानी पड़ी जान, जानें मौतों की वजह

चारधाम यात्रा में इस साल अब तक कुल 195 तीर्थयात्रियों की मौत हो चुकी है। इसमें से 71 फीसदी यानी 164 लोगों की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई।

देहरादून। चारधाम यात्रा में इस साल अब तक कुल 195 तीर्थयात्रियों की मौत हो चुकी है। इसमें से 71 फीसदी यानी 164 लोगों की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई। स्वास्थ्य मंत्री से मिली जानकारी के मुताबिक अब तक केदारनाथ धाम में 78, यमुनोत्री में 66, बदरीनाथ में 37 और गंगोत्री में 14 तीर्थयात्रियों की जान जा चुकी है।

Chardham-Yatra

स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि चारधाम में हुई मौतों की वजह जानने के लिए एक्सपर्ट कमेटी गठित कर दी गई थी। कमेटी की रिपोर्ट में बताया गया है 71 प्रतिशत तीर्थयात्रियों की मौत हार्टअटैक से हुई जबकि 17 की मौत सड़क हादसे और 12 फीसदी लोगों की मौत अन्य कारणों से हुई है। ये जानकारी स्वास्थ्य मंत्री डॉ.धन सिंह रावत की तरफ से बुधवार को विधानसभा सत्र के दौरान लिखित जवाब में दी गई। डॉ.रावत ने बताया कि केदारनाथ यात्रा के दौरान हो रही मौत की वजह और इसमें कमी लाने को गठित मॉनीटरिंग कमेटी अब चारों धामों में हो रही मौत के कारणों का अध्ययन कर रिपोर्ट सौंपेंगी।

टूटा तीर्थ यात्रियों का रिकार्ड

राज्य सरकार ने कहा कि चारधाम में इस बार यात्रियों की संख्या का रिकार्ड टूटा है। यात्रा के पहले एक महीने में साल 2019 की तुलना में 35 फीसदी अधिक श्रद्धालुओं ने चारधाम के दर्शन किए ।

Related Articles

Back to top button