क्या यूपी में टल जाएंगे विधानसभा चुनाव? इलाहाबाद हाईकोर्ट ने PM मोदी और चुनाव आयुक्त को दिया ये सुझाव

गुरूवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए यूपी विधानसभा चुनाव टालने का सुझाव दिया। हाईकोर्ट ने कहा यूपी चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियां रैलियों में भारी भीड़ एकत्र कर रही हैं। प्रधानमंत्री और चुनाव आयुक्त चुनावी रैलियों पर कड़ाई से रोक लगाएं। हाईकोर्ट ने स्पष्ट किया कि प्रधानमंत्री चुनाव टालने पर भी विचार करें, क्योंकि जान है तो जहान है।

Spread the love

प्रयागराज. इलाहाबाद हाईकोर्ट से एक बड़ी खबर सामने आई है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चुनाव आयुक्त से कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए चुनाव टालने का अनुरोध किया है। साथ ही कहा है कि रैलियों में भारी भीड़ एकत्र न हो ऐसे में चुनाव प्रचार टीवी,समाचार पत्रों के माध्यम से करें इस दौरान हाईकोर्ट ने सरकार को सख्त निर्देश भी दिये हैं।

गुरूवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए यूपी विधानसभा चुनाव टालने का सुझाव दिया। हाईकोर्ट ने कहा यूपी चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियां रैलियों में भारी भीड़ एकत्र कर रही हैं। प्रधानमंत्री और चुनाव आयुक्त चुनावी रैलियों पर कड़ाई से रोक लगाएं। हाईकोर्ट ने स्पष्ट किया कि प्रधानमंत्री चुनाव टालने पर भी विचार करें, क्योंकि जान है तो जहान है।

हाईकोर्ट ने कहा कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट के 24 घंटे में हजार नए मामले मिले हैं। इसमें 318 लोगों की मौतें हुई हैं। इस महामारी को देखते हुए चीन, नीदरलैंड, आयरलैंड, जर्मनी, स्काटलैंड जैसे देशों ने संपूर्ण व आंशिक लाकडाउन लगा दिया है। ऐसी दशा में महानिबंधक, उच्च न्यायालय इलाहाबाद से आग्रह है कि वह इस विकट स्थिति से निपटने के लिए नियम बनाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button