इन लोगों को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए आंवला, पड़ सकता है सेहत पर भारी

हेल्थ डेस्क. औषधीय गुणों की वजह से आंवला (Gooseberry) की गिनती सुपरफूड में की जाती है। आयुर्वेद में आंवले को सेहत के लिए बहुत गुणकारी माना जाता है। आंवला (Gooseberry) के अंदर संतरे को मुकाबले 20 गुना अधिक विटामिन सी पाया जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन सी के अलावा, आंवले में विटामिन ए, बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, पोटैशियम, कैल्शियम, ,मैग्निशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर पाए जाते हैं जो शरीर को कई स्वास्थ्य समस्याओं से दूर रखने में मदद करते हैं।

हेल्थ डेस्क. औषधीय गुणों की वजह से आंवला (Gooseberry) की गिनती सुपरफूड में की जाती है। आयुर्वेद में आंवले को सेहत के लिए बहुत गुणकारी माना जाता है। आंवला (Gooseberry) के अंदर संतरे को मुकाबले 20 गुना अधिक विटामिन सी पाया जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन सी के अलावा, आंवले में विटामिन ए, बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, पोटैशियम, कैल्शियम, ,मैग्निशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर पाए जाते हैं जो शरीर को कई स्वास्थ्य समस्याओं से दूर रखने में मदद करते हैं।

सेहत के लिए आंवला (Gooseberry) इतना फायदेमंद होने के बावजूद कुछ लोगों को इसे खाने की मनाही होती है। आइए जानते हैं आखिर किन लोगों को भूलकर भी आंवला (Gooseberry) नहीं खाना चाहिए।

एसिडिटी-
जिन लोगों को एसिडिटी की शिकायत रहती है उन्हें आंवले का सेवन करने से बचना चाहिए। आंवले में मौजूद विटामिन सी की अधिकता हाइपर एसिडिटी वाले लोगों की दिक्कतें बढ़ा सकती है।

खून की बीमारी वाले लोग-
आंवले में मौजूद एंटीप्लेटलेट गुण खून के थक्कों को बनने से रोक सकता है। आंवले का ये गुण हार्ट अटैक और स्ट्रोक के खतरे को कम करता है लेकिन जो लोग पहले से ही किसी तरह के ब्लड डिसऑर्डर से जूझ रहे हैं उनके लिए आंवला (Gooseberry) अच्छा विकल्प नहीं है। ऐसे लोगों को अपने डॉक्टर से संपर्क करने के बाद ही आंवला (Gooseberry) खाना चाहिए।

सर्जरी-
अगर आपने हाल ही में किसी तरह की कोई सर्जरी करवाई है तो आंवले काने से बचें। इस फल का अधिक मात्रा में सेवन करने से ब्लीडिंग का खतरा बढ़ जाता है। लंबे समय तक ब्लीडिंग होने से हाइपोक्सिमिया, गंभीर एसिडोसिस या मल्टीऑर्गन डिसफंक्शन की समस्या हो सकती है।

लो ब्लड शुगर-
अगर आपका शुगर लेवल कम रहता है तो आप आंवले का सेवन कम करें। आंवला (Gooseberry) ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है। इसलिए जो लोग डायबिटीज की दवाएं ले रहे हैं उन्हें भी आंवले का सेवन कम करना चाहिए।

Related Articles

Back to top button