Agneepath Scheme: भारत बंद के एलान के बीच राज्य में अलर्ट, रेलवे स्टेशन पर तैनात किये गए RPF और GRP के जवान

अग्निपथ भर्ती योजना के खिलाफ देश भर में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। आज यानी 20 जून को भारत बंद के एलान के बाद उत्तराखंड

देहरादून। अग्निपथ भर्ती योजना के खिलाफ देश भर में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। आज यानी 20 जून को भारत बंद के एलान के बाद उत्तराखंड के भी पुलिस प्रशासन को अलर्ट पर रखा गया है। रविवार को भी रुड़की नारसन क्षेत्र में युवाओं के प्रदर्शन के मद्देनजर पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट रहा। नारसन चौकी से लेकर मंगलौर गुड़ मंडी पर भी पुलिस का सख्त पहरा रहा।

AGNIPATH

पुलिस ने नारसन के कई गांवों में फ्लैग मार्च निकाला और प्रदर्शन न करने की चेतावनी दी। पुलिस की सख्ती को देखते हुए युवाओं ने न तो कोई प्रदर्शन किया और न ही बैठक की। इधर अग्निपथ भर्ती योजना के खिलाफ टनकपुर में भी युवा प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं योजना के विरोध में आज 20 जून को चंपावत में प्रस्तावित विरोध प्रदर्शन की पुलिस ने अनुमति नहीं दी है।

उधर देशभर में रेलवे स्टेेशनों पर हो आंदोलन और आगजनी की घटना के मद्देनजर योगनगरी ऋषिकेश में रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। यहां चप्पे-चप्पे पर आरपीएफ (रेलवे पुलिस फोर्स) और जीआरपी (राजकीय रेलवे पुलिस) के जवानों के जवान तैनात है। साथ ही स्टेशन पर हाई अलर्ट जारी कर अतिरिक्त फोर्स भी लगाई गई है।

रुड़की में मंडल सुरक्षा आयुक्त मनोज कुमार का कहना है कि जिले के सभी थानाध्यक्षों को अलर्ट कर दिया गया है। रुड़की रेलवे स्टेशन पर भी भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात है। रेलवे लाइनों और ट्रैक पर सख्त नजर रखी जा रही है। रेलवे पुलों पर भी सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की गई है।

Related Articles

Back to top button