50 मीटर धंसा ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे, जान जोखिम में डाल यात्रा कर रहे लोग

उत्तराखंड के पंतगांव में बना ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे 50 मीटर धंस गया है। हालांकि इस रोड पर वाहनों की आवाजाही हो रही है...

देवप्रयाग। उत्तराखंड के पंतगांव में बना ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे 50 मीटर धंस गया है। हालांकि इस रोड पर वाहनों की आवाजाही हो रही है लेकिन खतरे को देखते हुए धंसे हुए हिस्से पर बैरीकेटस लगा दिए गए हैं। कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग राष्ट्रीय राजमार्ग (पीडब्लूडी एनएच) खंड का कहना है कि सड़क किनारे बिजली के पोल गाड़ने के लिए खोदे गड्ढों में पानी भरने से पुश्ता धंसने की घटना हुई है।

Rishikesh badrinath highway

बताया जा रहा है कि मंगलवार सुबह देवप्रयाग से करीब छह किलोमीटर दूर पंतगांव में भारी बारिश होने से ऑल वेदर रोड परियोजना के अंतर्गत बना पुश्ता धंस गया है। पुश्ते के धंसने से यह हिस्सा वाहनों के आवागमन के लायक नहीं रह गया है ऐसे में उस हिस्से पर बैरिकेडिंग लगा दी गई है। गनीमत रही कि जब पुश्ता धंसा उस वक्त उस पर कोई वाहन नहीं था जिससे कोई हादसा नहीं हुई।

गौरतलब है कि ऑलवेदर रोड परियोजना कार्य से बदरीनाथ हाईवे पर आवागमन कई जगहों पर सुगम तो हो गया है लेकिन पागल नाला में हाईवे आज भी बदहाल स्थिति में है। यहां हल्की से हल्की बारिश होने पर भी हाईवे पर मलबा आ जा रहा है जिससे यातायात बाधित हो रहा है। यहां नाले में अभी भी तमाम बोल्डर अटके हैं जो कभी भी हाईवे को क्षतिग्रस्त कर सकते हैं। ऑलवेदर रोड परियोजना के तहत एनएचआईडीसीएल ने पागल नाला में पुल निर्माण का प्रस्ताव रखा है लेकिन इस प्रस्ताव पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है।

Related Articles

Back to top button