18 year old newly married woman hanged herself, sorry written in suicide note | 18 वर्षीय नव विवाहिता ने फांसी लगा की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखा सॉरी

Spread the love

राजनगर18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो, इनसेट में मृतका - Dainik Bhaskar

फाइल फोटो, इनसेट में मृतका

  • यादुडीह निवासी मार्शल गोडशोरा की 18 वर्षीय पत्नी शांति बनसिंह ने अपने ही घर के धरना पर साड़ी का फंदा बनाकर आत्महत्या की

थाना क्षेत्र के हेरमा पंचायत अंतर्गत यादुडीह गांव में एक विवाहिता ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। यादुडीह निवासी मार्शल गोडशोरा की 18 वर्षीय पत्नी शांति बनसिंह ने अपने ही घर के धरना पर साड़ी का फंदा बनाकर आत्महत्या की। घटना गुरुवार रात लगभग आठ बजे की बताई जा रही है। घटना की सूचना मिलने के बाद थाना के एएसआई राहुल कुनाल एवं महिला एएसआई एस. हेम्ब्रम पुलिस बल के साथ जाकर यदुडीह गांव पहुंचे। पुलिस ने छानबीन में एक कागज में लिखे सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमें शांति बनसिंह ने सिर्फ सॉरी लिखा है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सरायकेला भेज दिया।

पुलिसिया पूछताछ में मृतक के पति मार्शल गोडशोरा ने बताया कि यादुडीह में उनका दो जगह मकान है। नया मकान थोड़ा एकांत में है। जिस पर हम दोनों पति-पत्नी रहते थे। जबकि पुराने घर में मेरे पिता रहते हैं। पिता कई दिनों से बीमार हैं। गुरुवार रात मैं पिता को देखने के लिए गया था। वहां से लौटने के बाद घर में देखा कि पत्नी शांति घर के धरना पर साड़ी का फंदे के सहारे लटकी हुई थी। उसे फंदे से उतारने के बाद देखा तो उसकी सांस थम चुकी थी। इसके बाद गांव वालों को मामले की जानकारी दी।

पति बोले-6 माह पहले प्रेम विवाह हुआ था, सब कुछ सामान्य था

पति ने कहा पत्नी ने इतना बड़ा कदम कैसे उठाया वह खुद सकते में हैं। हमारे बीच सब कुछ सामान्य चल रहा था। बीते मार्च में ही हमने प्रेम विवाह किया था। पत्नी का मायके उड़ीसा के बहलदा में है। इधर घटना की खबर पाकर ससुराल वाले भी पहुंचे। पति के बयान पर पुलिस यूडी केस दर्ज कर मामले की छानबीन में जुट गई है।

सरायकेला सदर अस्पताल का मामला- मरीज ने अस्पताल की तीसरी मंजिल की बालकनी से कूदकर दे दी जान

सदर अस्पताल में इलाजरत मरीज हीरालाल महतो (38) ने गुरुवार रात 12:30 बजे अस्पताल की तीसरी मंजिल की बालकनी से कूदकर जान दे दी। बुधवार रात शारीरिक कमजोरी के कारण भर्ती हुए था। उनकी तबीयत एकदम सामान्य हो चुकी थी एवं शुक्रवार को अस्पताल से डिस्चार्ज होने वाले था। राजनगर के बाना पंचायत के मुंडाकाटी गांव निवासी मृतक हीरालाल की पत्नी अंजू बोली अस्पताल में मुझे बाथरूम जाने की बात कहकर कमरे से निकले। खोजबीन करने पर उनका शव अस्पताल के पीछे कॉरीडोर के नीचे पाया गया। बोली उनके जान देने की वजह समझ में नहीं आ रही है।

खबरें और भी हैं…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button