सावधान : डाइबिटीज होने के संकेत देते हैं मुंह में होने वाले ये बदलाव

मौजूदा समय में सबसे डाइबिटीज का खतरा तेजी से बढ़ा है। बहुत सरे लोग इस लाइलाज बीमारी का शिकार हो रहे हैं। एक दशक पहले तक माना जाता था कि यह समस्या उम्रदराज...

Spread the love

मौजूदा समय में सबसे डाइबिटीज का खतरा तेजी से बढ़ा है। बहुत सरे लोग इस लाइलाज बीमारी का शिकार हो रहे हैं। एक दशक पहले तक माना जाता था कि यह समस्या उम्रदराज लोगों में अधिक होती है लेकिन वर्तमान समय में यह बीमारी बेहद कम उम्र के लोगों में भी हो रही हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो जीवनशैली में आई गड़बड़ी की वजह से लोगों में मधुमेह का खतरा समय से पहले ही बढ़ता जा रहा है।

diabetes

डाइबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो शरीर को धीरे-धीरे खोखला कर देती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक किसी भी स्थिति के निदान का पहला चरण, उसके प्रमुख लक्षणों पर ध्यान देना है। चाहे वह सामान्य सर्दी हो या फ्लू, हृदय रोग या मधुमेह, शरीर में दिखने वाले लक्षणों के आधार पर समस्या के बारे में आसानी से पता लगाया जा सकता है। डॉक्टर बताते हैं, डायबिटीज की बीमारी का पता लगाना बेहद आसान होता है। डायबिटीज के रोगियों को मुंह में कुछ ऐसे बदलाव नजर आ सकते हैं जिसके आधार पर आसानी से इस समस्या के बारे में जाना जा सकता है।

बार-बार मुंह सूखना

अगर आपको भी बार-बार मुंह सूखने की समस्या हो रही है तो सतर्क हो जाइए। दरअसल ब्लड शुगर का स्तर मुंह में लार के उत्पादन को प्रभावित कर सकता है। अगर शुगर लेबल शरीर में अनियंत्रित रूप से बढ़ जाता है तो लार का उत्पादन कम होने लगता है और मुंह सूखने की समस्या होने लगती है। इस समस्या की वजह से मुंह में घाव और अल्सर का भी खतरा बढ़ जाता है। बार-बार मुंह सूखने को डायबिटीज का संभावित संकेत माना जाता है। ऐसे में इसे कतई नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

संक्रमण का खतरा

मधुमेह की स्थिति में कई कारणों से मुंह या जीभ में संक्रमण होने की संभावना बेहद जाती है। अगर आपकी जीभ या गाल के अंदुरूनी हिस्से में बार-बार संक्रमण हो रहा है और इसे ठीक होने में अपेक्षाकृत अधिक समय लग रहा है तो आपको तुरन्तत सावधान हो जाना चाहिए। यह डायबिटीज का संकेत हो सकता है। ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

जीभ या मुंह में जलन

डाइबिटीज की वजह से बार-बार मुंह सूखने या संक्रमण के चलते लोगों को जीभ या मुंह में जलन की शिकायत होने लगती है। कुछ लोगों को जीभ सुन्न होने के साथ मुंह में झुनझुनी का भी ऐसस होता है। अगर आपको भी इस तरह की दिक्कत महसूस हो रही है तो सावधान हो जाइये। यह मधुमेह का संकेत हो सकता है।

मुंह के घाव का जल्दी ठीक न होना

मधुमेह होने पर प्रतिरक्षा प्रणाली काफी स्लो हो जाती है। इसके साथ ही हाई ब्लड शुगर का स्तर उपचार की प्रक्रिया को भी प्रभावित करने लगता है। ऐसे में अगर आपके मुंह के छाले या घावों को ठीक होने में बहुत अधिक समय लग रहा हो तो यह डाइबिटीज का लक्षण हो सकता है। इन स्थितियों में तुरंत जांच करा कर उपचार शुरू कर देना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button