मजार में घुसा चोर, फिर सुबह से हो गई रात, लेकिन हाथ ऐसा फंसा की निकालने में हालत खराब

Spread the love

कन्नौज के मड़हारपुर गांव की एक मजार में चोरी के इरादे से घुसे एक शख्स की शामत आ रखी थी, जिसकी वजह से उसका हाथ वहां रखे दानपात्र में फंस गया। दानपात्र में ताला लगा होने के चलते वह अपना हाथ नहीं निकाल सका। पूरी रात कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हुआ।

वहीँ सुबह होने पर उस चोर के रोने की आवाज़ पर लोगों का मजमा लग गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे छुड़ाया, पूछताछ की और थोड़ी देर बाद उसे अस्‍पताल में भर्ती करा दिया। मड़हारपुर गांव शहर के करीब ही स्थित है। वहां बाबा हज़रत लाल शहीद की मजार है। मजार में लोहे का दानपात्र रखा हुआ है, जिसमें ताला लगा रहता है।

दो चोर हुए फरार

बताया जा रहा है कि सोमवार की रात कुछ युवक वहां पहुंचे और दानपात्र में रखी रकम को चोरी करने की कोशिश करने लगे। लेकिन ताला लगा होने के चलते कामयाब नहीं हो सके। किसी तरह लोहे की दूसरी चीजों की मदद से दानपात्र का ऊपरी हिस्सा उचकाकर उसमें एक युवक ने हाथ डाल दिया, लेकिन वापस नहीं निकाल सका। काफी कोशिश की, लेकिन कामयाबी नहीं मिली।

वहीँ इसी जद्दोजहद में सुबह हो गई, तो दो युवक वहां से भाग निकले। जबकि जिसका हाथ दानपात्र में फंसा था वह वहीं बैठा-बैठा रोने लगा। उसकी चीख सुनकर गांव के लोग मजार पर पहुंचे तो नजारा देखकर चौंक गए।युवक का हाथ दानपात्र में फंसा होने की जानकारी पर वहां आसपास के लोगों का मजमा लग गया। ।

इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मजार की देखरेख करने वालों से चाभी मंगाकर दानपात्र का ताला खुलवाया और युवक को अपने साथ ले गई। मजार में चोरी के इरादे से घुसे शख्‍स के साथ हुई इस घटना को लेकर लोगों में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। मजार में आस्था रखने वाले इसे बाबा का करिश्मा बता रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button